DA Image
2 अप्रैल, 2020|9:02|IST

अगली स्टोरी

राज्यपाल ने मुरादाबाद में जैविक विधि से पैदा की जाने वाली फल-सब्जियों में दिखाई दिलचस्पी

राज्यपाल ने मुरादाबाद में जैविक विधि से पैदा की जाने वाली फल-सब्जियों में दिखाई दिलचस्पी

1 / 3राज्यपाल आनंदी बेन पटेल अपने दो दिवसीय दौरे पर सुबह लगभग नौ बजे मुरादाबाद पहुंची। राज्यपाल को मनोहरपुर कृषि प्रशिक्षण केंद्र इतना भाया कि उन्होंने एक घंटे से अधिक समय यहां बिताया। इससे पहले गणेश घाट...

राज्यपाल ने मुरादाबाद में जैविक विधि से पैदा की जाने वाली फल-सब्जियों में दिखाई दिलचस्पी

2 / 3राज्यपाल आनंदी बेन पटेल अपने दो दिवसीय दौरे पर सुबह लगभग नौ बजे मुरादाबाद पहुंची। राज्यपाल को मनोहरपुर कृषि प्रशिक्षण केंद्र इतना भाया कि उन्होंने एक घंटे से अधिक समय यहां बिताया। इससे पहले गणेश घाट...

राज्यपाल ने मुरादाबाद में जैविक विधि से पैदा की जाने वाली फल-सब्जियों में दिखाई दिलचस्पी

3 / 3राज्यपाल आनंदी बेन पटेल अपने दो दिवसीय दौरे पर सुबह लगभग नौ बजे मुरादाबाद पहुंची। राज्यपाल को मनोहरपुर कृषि प्रशिक्षण केंद्र इतना भाया कि उन्होंने एक घंटे से अधिक समय यहां बिताया। इससे पहले गणेश घाट...

PreviousNext

राज्यपाल आनंदी बेन पटेल अपने दो दिवसीय दौरे पर सुबह लगभग नौ बजे मुरादाबाद पहुंची। राज्यपाल को मनोहरपुर कृषि प्रशिक्षण केंद्र इतना भाया कि उन्होंने एक घंटे से अधिक समय यहां बिताया। इससे पहले गणेश घाट पर पौधरोपण किया और फिर मुरादाबाद के लोहिया एक्सपोर्ट में पहुंच कर ओडीओपी के उत्पादों की प्रदर्शनी देखी और दस्तकारों को सम्मानित किया। राज्यपाल ने दस्तकारों की समस्याएं भी सुनीं और उनके निराकरण के लिए मुख्यमंत्री से बात करने का आश्वासन भी दिया। राज्यपाल ने सदर तहसील में पहुंच कर जन शिकायतों के निस्तारण का तरीका भी देखा। राज्यपाल रात्रि विश्राम भी मुरादाबाद में करेंगी। वह अगले दिन अमरोहा के रवाना होंगी।

राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने मनोहरपुर स्थित कृषि प्रशिक्षण केंद्र पहुंचने के बाद सबसे पहले एग्रीकल्चर स्कूल आन व्हील देखने गईं। इसके बाद जैविक वाटिका का उद्घाटन किया। इस दौरान वाटिका में कुछ संस्थाओं द्वारा की जा रही फल-सब्जी में जैविक खेती के फायदे बताए। इसके बाद राज्यपाल ने गोबर से बनने वाले गमले और गोबर से डाई मशीन की मदद से तैयार होने वाली लकड़ी को बनाने का तरीका देखा। इसके बाद किसान भाइयों से जेविक खेती से होने वाले फायदे के बारे में बात की।

राज्यपाल के आने से पहले मधुमक्खी का झुंड आने से अफसर रहे बेचैन, कबल मंगवाए

मुरादाबाद। राज्यपाल के आने से ठीक पहले केंद्र पर पल रही मधुमक्खी का झुंड अचानक आ गया,जिससे अफसरों में हडकंप मच गया।आनन केंद्र के लोगों ने कंबल मंगगवाए, वहीं दूसरी ओर स्टाफ को मधुमक्खी को रोकने के भेजा, कुछ ही देर व्यवस्था काबू होने पर सभी ने राहत की सांस ली।

राज्यपाल ने हस्तशिल्प कारीगरों की समस्याएं सुनीं

मुरादाबाद। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने लोहिया एक्सपोर्ट में पहुंच कर पीतल कारीगरों से बात की। इस दौरान राज्यपाल ने पीतल उत्पादों के जरिये मुरादाबाद का नाम दुनियाभर में चमकाने वाले कारीगरों को पुरस्कृत किया। ओडीओपी उत्पादों की प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। दस्तकारों ने अपनी समस्याएं राज्यपाल को बताईं। इस पर उन्होंनें मुख्यमंत्री से बात करके उनका निराकरण कराने का आश्वासन भी दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Governor showed interest in Moradabad by growing organic fruits and vegetables