DA Image
27 नवंबर, 2020|7:43|IST

अगली स्टोरी

मफलर टोपी की तरह मास्क की आदत डालें

मफलर टोपी की तरह मास्क की आदत डालें

प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा वित्त एवं संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि कोरोना के साथ जीने की आदत डालनी होगी। जिला प्रशासन और कोविड 19 टीएमयू हास्पिटल प्रबंधन और चिकित्सकों के साथ बैठक के बाद मंत्री ने कहा कि महामारी के संक्रमण को रोकने का तरीका सिर्फ इससे बचाव ही है। बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का इस्तेमाल करना होगा। ठीक उसी तरह से जैसे सर्दी में मफलर और टोपी पहन कर रहते हैं। बारिश और धूप में बचने को छतरी का प्रयोग करते हैं। इन मौसम में बचाव के लिए सावधानी बरती जाती है। इम्युनिटि पॉवर को बूस्ट करते हैं। इसी तरह कोरोना महामारी से बचने को करें। इसका अभी कोई इलाज नहीं है। सतर्कता और सावधानी से इसके संक्रमण से बच सकते हैं। उन्होंने गाजियाबाद के एक संक्रमित डाक्टर का जिक्र करके कहा युवा डाक्टर ने मुझे बताया सिर्फ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने से कोरोना संक्रमण हुआ। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि केंद्र के प्रबंधन और प्रदेश सरकार की कुशल नीति से कोरोना के संक्रमण को रोकने में कामयाबी मिली है। सरकार हर जगह पहुंच कर मास्क नहीं पहुंचा सकती और सोशल डिस्टेंसिंग नहीं करवा सकती। इसके लिए लोगों को खुद एलर्ट रहना होगा। नियमों का पालन करना होगा। मुरादाबाद में जल्द बनेगी कोरोना टेस्ट लैब मुरादाबाद में कोरोना टेस्ट लैब के सवाल पर कहा कि यहां टेस्ट लैब जल्द बनेगी। इसमें वक्त नहीं है। हमारा प्रयास है कि हर जिले में लैब हो। पहले कोरोना टेस्ट स्लो था अब तेजी से हो रहा है। मंत्री सुरेश खन्ना ने बताया कि अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं। मुरादाबाद में कम्यूनिटि किचेन, राशन वितरण समेत अन्य व्यवस्थाओं की उन्होंने सराहना भी की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Get used to masks like muffler caps