DA Image
19 अक्तूबर, 2020|8:40|IST

अगली स्टोरी

बिजली कर्मचारियों ने दिया धरना, नारेबाजी

default image

पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के निजीकरण के प्रस्ताव के विरोध में यूपी भर के बिजली कर्मचारी आंदोलित है। 29 सितंबर से चल रहे तीन घंटे के कार्य बहिष्कार में गुरुवार को कर्मचारी और चीफ अफसर के आफिस पर जुटे और प्रबंधन व सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। वक्ताओं ने कहा कि 5 अक्टूबर को देश के 15 लाख बिजली कर्मचारी, जूनियर इंजीनियर और अभियंता उत्तर प्रदेश के बिजली कर्मचारियों के निजीकरण के विरुद्ध संघर्ष में विरोध प्रदर्शन करेंगे।

निजीकरण को लेकर विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले बिजली कर्मचारी आंदोलन कर रहे हैं। गुरुवार को इसी कड़ी में बिजली अफसर और कर्मचारियों ने मुख्य अभियंता आफिस में निजीकरण को लेकर चलाए जा रहे धरने में सहभागिता की। कार्य बहिष्कार के दौरान धरना देने वालों में शैलेंद्र गौतम,भूपसिंह राघव,ललित चौहान,विशाल मलिक,विक्रम सिंह,सुशील कुमार,राजवीर कटारिया,ओपी वर्मा,अजय कश्यप,शिव कुमार मौर्या,विश्वजीत, वैभव कुमार,राहुल,हुकूम सिंह राणा,सागर ब्रजेश कुमार समेत तमाम साथी मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Electricity workers protest sloganeering