ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मुरादाबादरेलवे फाटक 36बी का बूम टूटकर ओएच लाइन से टकराया, संचालन हुआ बाधित

रेलवे फाटक 36बी का बूम टूटकर ओएच लाइन से टकराया, संचालन हुआ बाधित

रेलवे फाटक 36बी के बूम को ओवरलोड ट्रक ने टक्कर मारकर तोड़ दिया। बूम टूटकर ट्रैक के ऊपर जा रही ओएच लाइन से टकराया गया। इससे स्थानीय अधिकारियों में...

रेलवे फाटक 36बी का बूम टूटकर ओएच लाइन से टकराया, संचालन हुआ बाधित
हिन्दुस्तान टीम,संभलFri, 01 Dec 2023 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

रेलवे फाटक 36बी के बूम को ओवरलोड ट्रक ने टक्कर मारकर तोड़ दिया। बूम टूटकर ट्रैक के ऊपर जा रही ओएच लाइन से टकराया गया। इससे स्थानीय अधिकारियों में हड़कंप मच गया। स्टेशन अधीक्षक व आरपीएफ रात में ही मौके पर पहुंचे। हादसे के चलते दो ट्रेनों को सिसरका व आसफपुर रेलवे स्टेशन पर खड़ा करना पड़ा, जो करीब 45 मिनट तक खड़ी रहीं। आरपीएफ ने अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।
बुधवार आधी रात के बाद करीब 12 बजकर 30 मिनट पर मुरादाबाद की ओर से एक ओवरलोड ट्रक आया और रेलवे फाटक 36बी खुला होने के बावजूद टक्कर मारकर बूम तोड़ दिया। हादसे में बूम टूटकर इलेक्ट्रिक ट्रेन के संचालन के लिए जा रही ओएच लाइन से टकरा गया। जिससे तेज आवाज के साथ चिंगारी निकली। घटना के बाद चालक वहां से ट्रक लेकर भाग गया। गेटमैन रमेश ने इसकी सूचना पावर केबिन, स्टेशन अधीक्षक व आरपीएफ को दी। इससे अधिकारियों में हड़कंप मच गया। इसके बाद ओएच लाइन की आपूर्ति बंद कराई गई। सूचना मिलने पर स्टेशन अधीक्षक सरदार हरभजन सिंह, आरपीएफ पोस्ट प्रभारी लोकेश कुमार जवानों के साथ गेट 36बी पर पहुंच गए। इस दौरान बरेली की ओर से आ रही 4009 मोतिहारी एक्सप्रेस को सिसरका व 4015 सद्भावना एक्सप्रेस ट्रेन को आसफपुर रेलवे स्टेशन पर खड़ा कर दिया गया। ओएच लाइन व गेट का बूम सही होने के बाद इन ट्रेनों को करीब एक घंटा विलंब से चन्दौसी स्टेशन से रवाना किया गया। आरपीएफ प्रभारी लोकेश कुमार ने बताया कि अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। मामले की जांच की जा रही है।

वाहन से बूम टूटने के बाद ओएच लाइन से टकरा गया था। मौके पर जाकर जानकारी ली गई और सही कराया गया। इस दौरान सद्भावना व मोतिहारी ट्रेनों को पिछले स्टेशनों पर खड़ा कर दिया गया। देानों ट्रेनें करीब आधा घंटे बाद यहां से रवाना हुईं। - सरदार हरभजन सिंह, स्टेशन अधीक्षक, रेलवे स्टेशन चन्दौसी

दिन होता तो हो सकता था बड़ा हादसा

चन्दौसी। रेलवे फाटक 36बी पर दिन के समय काफी भीड़ रहती है। फाटक बंद होने से जाम लगा रहता है। ऐसे में अगर यह घटना दिन में होती तो बड़ा हादसा हो सकता था। क्योंकि बूम टूटने के बाद जिस तरह से ओएच लाइन से टकराया था और तेज आवाज के साथ चिंगारी निकली थी। ऐसे में भगदड़ मच सकती थी अथवा कोई भी करंट की चपेट में आ सकता था।

रेलवे फाटक 36बी पर नहीं सीसीटीवी कैमरा

चन्दौसी। रेलवे फाटक पर यातायात का काफी दबाव रहता है। आए दिन बूम टूटने के अलावा अन्य घटनाएं होती रहती हैं। इसके बाद भी यहां सीसीटीवी कैमरे नहीं हैं। अगर इस गेट पर सीसीटीवी कैमरा लगा होता तो रात की घटना कैद हो सकती थी। जिससे वाहन चालक को पकड़ने में आसानी होती।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें