DA Image
3 दिसंबर, 2020|6:42|IST

अगली स्टोरी

डिजिटल कांफ्रेंस: आपदा को अवसर में बदलेंगे निर्यातक

default image

कोविड-19 के कहर ने निर्यात कारोबार में नई संभावनाओं की किरण दिखाई है। हैंडीक्राफ्ट के निर्यातक आपदा से पैदा हुईं चुनौतियों को अवसर में बदल सकते हैं। यह बातें शुक्रवार को ईपीसीएच की डिजिटल कांफ्रेंस में कही गईं। इसमें ईपीसीएच की प्रशासनिक समिति के सदस्यों के साथ ही विभिन्न निर्यातक एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। यंग एंटरप्रिन्योर सोसाइटी के चेयरमैन विशाल अग्रवाल, ईपीसीएच के वाइस चेयरमैन एवं मुरादाबाद हैंडीक्राफ्ट एक्सपोर्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष नवेदउर्रहमान, यस के नेशनल चेयरमैन एवं ईपीसीएच के सीओए सदस्य नीरज खन्ना, रोहित ढल, उदित सरन, नजमुल इस्लाम, एमएचईए के महासचिव अवधेश अग्रवाल, सीओए सदस्य शरद बंसल, एलयूबी के अमत अग्रवाल, हेमंत जुनेजा, गौरव ओहरी आदि रहे। कांफ्रेंस में आईआईएफटी, दिल्ली की तमन्ना चतुर्वेदी ने बताया कि कोविड -19 को देखते हुए हमें नए मार्केट ढूंढ़ने होंगे। कोरोना से कम प्रभावित हुए देश जैसे अफ्रीका, लैटिन अमेरिका, कनाडा आदि हमारे लिए मददगार हो सकते हैं। अमेरिका और यूरोप के ग्राहकों में चीन के निर्यातकों के साथ बिजनेस नहीं करने के रुझान को हमें विभिन्न तरीकों का इस्तेमाल करके भुनाना होगा। ईपीसीएच के महानिदेशक राकेश कुमार, आरके मल्होत्रा और ईपीसीएच के सीओए सदस्य कमल सोनी ने पैकेजिंग को बहुत महत्वपूर्ण बताते हुए ई-कॉमर्स का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाने पर जोर दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Digital conference Exporters will turn disaster into opportunity