ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मुरादाबादकेंद्रीय एजेंसियों को भेजा जाएगा गैंगस्टरों की अवैध संपत्तियों का ब्योरा

केंद्रीय एजेंसियों को भेजा जाएगा गैंगस्टरों की अवैध संपत्तियों का ब्योरा

गिरोह बनाकर संगीन अपराधों कोक अंजाम देकर जिन गैंगस्टरों ने अकूत धन अर्जित किया है उन पर पुलिस लगातार लगाम कस रही है। अब पुलिस ऐसे गैंगस्टरों की...

केंद्रीय एजेंसियों को भेजा जाएगा गैंगस्टरों की अवैध संपत्तियों का ब्योरा
हिन्दुस्तान टीम,मुरादाबादTue, 28 Nov 2023 10:00 PM
ऐप पर पढ़ें

गिरोह बनाकर संगीन अपराधों कोक अंजाम देकर जिन गैंगस्टरों ने अकूत धन अर्जित किया है उन पर पुलिस लगातार लगाम कस रही है। अब पुलिस ऐसे गैंगस्टरों की संपत्ति का ब्योरा केंद्रीय एजेंसियों को भी भेजेगी। ताकि वहां से भी जांच कर क़ी कार्रवाई हो सके।
सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में हुई स्पोर्ट्स व्यापारी कुशांक गुप्ता की हत्या और मझोला थाना क्षेत्र में इसी साल हुई सीए श्वेताभ तिवारी की हत्या और भाजपा नेता अनुज चौधरी की हत्या ऐसी संगीन वारदात थी, जिससे पूरा जिला हिल गया था। इन हत्याकांडों को गिरोह बनाकर गैंगस्टरों ने अंजाम दिया था। इसके अलावा कई अपराधी गिरोह बनाकर गोकशी, चोरी और ठगी जैसी घटनाओं को अंजाम देकर करोड़ों की संपत्ति अर्जित की है। बीते एक साल में मुरादाबाद पुलिस ने 23 गैंगस्टरों की करीब 14 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है। इसमें सर्वाधिक 11.03 करोड़ की संपत्ति हिस्ट्रीशीटर गैंगस्टर पूर्व ब्लॉक प्रमुख ललित कौशिक की है। जिसके खिलाफ अभी भी जब्तीकरण की कार्रवाई जारी है। ललित कौशिक के पास मात्र कुछ सालों में इतनी अधिक संपत्ति कैसे आई इसकी जानकारी कोई नहीं दे सका। इसलिए पुलिस की रिपोर्ट के बाद जिला अधिकारी ने जब्तीकरण के आदेश दिए। पुलिस अब इन गैंगस्टरों का ब्योरा केंद्रीय जांच एजेंसियों को देगी। ताकि केंद्रीय जांच एजेंसियां जांच कर आरोपियों के पास मिली भारी मात्रा में नगदी और अचल संपत्तियों के आय का पता कर आगे की कार्रवाई कर सके।

इस संबंध में एसएसपी हेमराज मीणा ने बताया कि गैंगस्टरों की विस्तुत रिपोर्ट तैयार कर केंद्रीय एजेंसियों को भेजा जाएगा। इसके लिए कार्रवाई की जा रही है। आयकर विभाग और अन्य एजेंसियां भी इनके संपत्तियों और आय के श्रोत की जांच करेंगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें