DA Image
27 सितम्बर, 2020|3:26|IST

अगली स्टोरी

कोरोना से मौत का आंकड़ा सौ के करीब पहुंचा

default image

कोरोना संक्रमण से जिले में मौत का आंकड़ा सौ के करीब जा पहुंचा है। संक्रमण की चपेट में आकर अपनी जान गंवाने वालों में अधिकतर बुजुर्ग मरीज हैं। मध्यम उम्र के ऐसे मरीज भी कोरोना संक्रमण से पीड़ित होने के बाद मौत के आगोश में समा गए हैं जिन्हें पहले से कोई बीमारी थी। स्वास्थ्य विभाग में कोरोना से जान गंवाने वालों की दर्ज हुई आख्या के मुताबिक पैंसठ साल से अधिक उम्र के करीब सत्तर मरीजों की मौत हुई। जबकि, 35 से 60 साल के बीस से ज्यादा मरीज कोरोना संक्रमण की चपेट में आने के बाद मौत का शिकार हो गए। पैंतीस साल से कम उम्र के तीन मरीज भी जिंदगी की जंग हार गए। कोविड 19 के जिला नोडल अधिकारी डॉ.दिनेश कुमार प्रेमी ने कहा कि कोरोना मरीजों के मौत के आंकड़े से बुजुर्गों को इस महामारी से दहशत होना स्वाभाविक है। लेकिन, पूरी एहतियात बरतने पर इसका खतरा नहीं के बराबर है। अपने हौसले और हिम्मत से कई बुजुर्ग कोरोना को मात देने में भी कामयाब हो रहे हैं। कोरोना संक्रमितों में नब्बे फीसदी युवा कोविड संक्रमण से जिंदगी गंवाने वालों में बुजुर्गों की संख्या अधिक है, लेकिन, कोरोना संक्रमितों में उनकी हिस्सेदारी बहुत कम है। नब्बे फीसदी कोरोना संक्रमित 16 से 58 साल की उम्र के हैं। सिर्फ दस फीसदी संक्रमित बुजुर्ग और पंद्रह साल से कम उम्र के बच्चे हैं। कोरोना संक्रमण के चलते अधिक उम्र के साथ ही बीपी, शुगर, हार्ट जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित मरीजों को अधिक खतरा है। उन्हें कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर विशेष एहतियात के साथ रहने की जरूरत है। डॉ.मिलिंद चंद्र गर्ग, मुख्य चिकित्साधिकारी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Death toll from Corona reached close to a hundred