DA Image
25 सितम्बर, 2020|4:03|IST

अगली स्टोरी

छजलैट बवाल प्रकरण: सात लोगों में सिर्फ तीन लोग हुए पेश

default image

छजलैट बवाल प्रकरण में मंगलवार को नूरपुर विधायक नईमुल हसन,राजेश यादव और राजकुमार प्रजापति स्पेशल कोर्ट में पेश हुए। वहीं पूर्व मंत्री महबूब अली,देहात विधायक हाजी इकराम कुरैशी,नगीना के विधायक मनोज पारस,डीपी यादव ने हाजिर माफी दाखिल की। कंडोलेंस के चलते कोर्ट ने इस मामले में सुनवाई की अगली तारीख 28 सितंबर तय की है। 2008 में बसपा शासन काल में थाना छजलैट के सामने पुलिस ने सपा नेता मोहम्मद आजम खान की कार को चेंकिंग के लिए रूकवाया था,जिसके विरोध में आजम खान सड़क पर बैठ गए और उनके समर्थन में मुरादाबाद संग आसपास के सपा पदाधिकारी व कार्यकर्ता पहुंच गए और हाईवे जाम कर बवाल कर दिया था। इस मामले में पुलिस ने आजम खान उनके बेटे अब्दुल्ला आजम,पूर्व मंत्री महबूब अली, देहात विधायक हाजी इकराम कुरैशी,नगीना विधायक मनोज पारस,नूरपुर के विधायक नईमुलहसन,राजेश यादव,डीपी यादव और राजकुमार प्रजापति समेत अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इस मामले में सुनवाई चल रही है। एमपी/एमएलए कोर्ट के एडीजीसी मुनीष भटनागर ने बताया कि मंगलवार को इस केस की तारीख पर नूरपुर विधायक नईमुल हसन, राजेश यादव और राजकुमार प्रजापति हाजिर हुए,वहीं पूर्व मंत्री,देहात विधायक संग चार ने हाजिर माफी लगवाई। मंगलवार को पूर्व राष्ट्रपति के निधन के चलते कंडोलेंस हो जाने की वजह से स्पेशल कोर्ट ने केस में अगली सुनवाई 28 सितंबर लगाई है। छजलैट बवाल में आजम और अब्दुल्ला की चार को कोर्ट में पेशी मुरादाबाद। छजलैट में हाईवे जाम और बवाल मामले मेंआजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम के सीतापुर जेल भेजे जाने के बाद इनकी फाइल अलग कर दी गई। जिसमें 21 अगस्त को दोनों जेल से कोर्ट में पेश हुए। अब दोनों इसी केस में कोर्ट में चार सितंबर को पेश होंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Chhajlat ruckus episode Only three people appeared in seven