DA Image
26 सितम्बर, 2020|9:02|IST

अगली स्टोरी

गला घोंटकर डियर पार्क में फेंका गया था शव

default image

कटघर थाना क्षेत्र के डियर पार्क में सोमवार शाम मिला शव असमोली के गुमसानी गांव में रहन वाले राजकुमार का था। परिजनों ने पोस्टमार्टम हाउस पहुंच कर उसकी शिनाख्त की। शिनाख्तगी के बाद पुलिस ने पोस्टमार्टम कराके शव परिजनों को सौंप दिया। पोस्टमार्टम में गला घोंटकर हत्या करने की पुष्टि हुई हे।

सोमवार शाम कटघर थाना क्षेत्र स्थित डियर पार्ग में युवक का शव मिला था। चौकीदार की सूचना कटघर पुलिस ने पांच-छह दिन पुराने शव को बाहर निकाला। उस समय शिनाख्त न हो पाने के कारण शव पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया गया था। एसएचओ कटघर गजेंद्र सिंह ने बताया कि मंगलवार को मृतक की शिनाख्त राजकुमार (22) निवासी रतनपुर कलां थाना पाकबड़ा के रूप में हुई। राजकुमार असमोली के गांव गुमसानी में कई साल से अपने मामा दिनेश के घर रहता था। दिनेश ने बताया कि 23 अगस्त की शाम राजकुमार रतनपुर कलां में ताऊ बलवीर के घर जाने की बात कहकर निकला था, लेकिन वहां नहीं पहुंचा। अगले दिन शाम पांच बजे के बाद उसका मोबाइल फोन भी बंद हो गया। परिजनों ने असमोली थाने में गुमशुदगी दर्ज करा दी। लावारिस शव मिलने की सूचना पर कटघर एसएचओ से संपर्क करने पर फोटो और कपड़े देखकर राजकुमार की पहचान की गई। पोस्टमार्टम में गला घोंटकर हत्या करने की पुष्टि हुई है। किसी घास की रस्सी या लता से गला घोंटा गया है। एसएचओ कटघर गजेंद्र सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जो भी तथ्य आएगा उसके अनुसार कार्रवाई होगी। गुमशुदगी असमोली में दर्ज है इसलिए वहां की पुलिस से भी संपर्क किया जाएगा।

पिता की दूसरी शादी के बाद से मामा के यहां रह रहा था राजकुमार

मुरादाबाद। हत्याकांड का शिकार राजकुमार एमए फाइनल ईयर का छात्र था। उसने आईटीआई भी की थी। राजकुमार के पिता रघुवीर ने बताया कि उसकी पहली पत्नी कमला की 2007 में मौत हो गई थी। पहली पत्नी के दो बेटे राजकुमार और कपिल थे। पत्नी की मौत के 2008 में रघुवीर ने अमलेश नाम की महिला से दूसरी शादी कर ली। उसके बाद वह हजरतनगर गढ़ी थाना क्षेत्र के गांव बरखेड़ा में जाकर बस गया। रघुवीर ने बताया कि उसकी दूसरी शादी के बाद राजकुमार अपने ननिहाल में जाकर रहने लगा था।

कहीं प्रेम प्रसंग में तो नहीं हुई हत्या

मुरादाबाद। पुलिस की अब तक की पड़ताल में पता चला है कि 23 को असमोली के गुमसानी से निकलने के बाद मुरादाबाद तक आया था। सवाल यह है कि जब वह घर से अपने ताऊ के घर रतनपुर कलां जाने की बात कहकर निकला था तो मुरादाबाद क्यों पहुंच गया। आशंका जताई जा रही है कि किसी के बुलाने पर राजकुमार मुरादाबाद पहुंचा। बाद बुलाने वाले व्यक्ति झांसा देकर उसे डियर पार्क में ले गया। वहां सूनसान स्थान देखकर उसने वहीं किसी पेड़ की लता या घास की रस्सी से उसका गला घोंट कर हत्या कर दी। हालांकि अभी परिवार के लोग किसी भी प्रकार की रंजिश या विवाद की बात से इंकार कर रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Body was strangled and thrown in Deer Park