DA Image
25 जनवरी, 2021|10:16|IST

अगली स्टोरी

भाकियू असली ने चक्का जाम को लेकर तय की रणनीति

default image

डॉक्टर स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट के अनुसार फसलों के भाव तय करने की मांग को लेकर 25 सितंबर को होने वाले चक्का जाम को लेकर व्यापक रणनीति बनाई है। भारतीय किसान यूनियन के प्रभाव वाले समुचित पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भारतीय किसान यूनियन असली के कार्यकर्ता चक्का जाम करेंगे।

संगठन के राष्ट्रीय महासचिव चौधरी महक सिंह ने बताया सरकार ने पार्लियामेंट में दो बिल पास करके कुछ करने का प्रयास किया है। लेकिन इससे काम चलने वाला नहीं है। इन बिलों से केवल निजी व्यापारियों को ही फायदा होगा। इसलिए हम चाहते हैं कि सीटू फार्मूले के अनुसार सरकार फसलों का रेट तय करें और उससे नीचे फसल की खरीदारी कानूनी अपराध घोषित हो। बताया कि भाकियू असली के बैनर तले मुरादाबाद, रामपुर ,संभल, अमरोहा, बिजनौर, हापुड़, बुलंदशहर, आगरा ,मेरठ, गाजियाबाद समेत अनेक जिलों में चक्का जाम कार्यक्रम किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि कल रजबपुर में दिल्ली- लखनऊ नेशनल हाईवे को राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी हरपाल सिंह बिलारी के नेतृत्व में चक्का जाम किया जायेगा।

फोटो सहित

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bakiu Asli decided the strategy regarding the flywheel jam