DA Image
20 सितम्बर, 2020|10:16|IST

अगली स्टोरी

मुरादाबाद में 75 हजार लोगों को मिली सात करोड़ 55 लाख की मदद

default image

लॉक डाउन के दौरान मुरादाबाद में सरकारी मशीनरी ने कई माध्यमों से मदद पहुंचाई। पिच्छत्तर हजार से ज्यादा लोगों को जिले में सात करोड़ 55 लाख रुपए की सहायता प्रदान की गई। शासन की ओर से गरीब बेसहारा और मजदूरों को यह धनराशि प्रति व्यक्ति 1000 रुपए की दर से दी गई। इसके साथ ही लॉक डाउन में सात लाख से ज्यादा लोगों को अब तक भोजन पहुंचाया गया है। बीस हजार से ज्यादा लोगों को कच्चा राशन पहुंचाया गया है।

राशन पहुंचाने में मुरादाबाद को यूपी में नंबर वन स्थान भी मिल चुका है। कम्यूनिटी किचन के माध्यम से विभन्न माध्यम से प्रशासन के पास सूचना पहुंची उसी पर टीमें भेजी गईं। कलेक्ट्रेट में खुले कंट्रोल रूम से माध्यम से मिली सूचना के आधार पर राशन वितरण किया गया। जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने बताया कि लॉक डाउन में मुख्य फोकस रहा कि गरीब बेसहारा तक मदद कैसे पहुंचे। शहर के तमाम लोगों ने इस कार्य में सहयोग किया। भोजन के पैकेट लोगों को ढूंढ़ कर बांटे गए। सात लाख से ज्यादा भोजन के पैकेट वितरण हो चुके हैं। कच्चा राशन वितरण में सरकारी माध्यम से 8569 पैकेट और गैर सरकारी 12076 पैकेट कुल 20645 पैकेट बांटे गए।

हमने किसी को भूखा नहीं रहने दिया : राकेश कुमार (फोटो)

लॉक डाउन के दौरान हमारी पहली प्राथमिकता, गरीब, बेसहारा और मजदूर रहे हैं। सात लाख से ज्यादा भोजन के पैकेट बंटे, बीस हजार से ज्यादा लोगों को कच्चा राशन पहुंचाया। सात लाख 55 हजार रुपए 75 हजार गरीब मजदूरों को दी जा चुकी है। लगातार यही कोशिश है कि जिस माध्यम से भी सूचना मिले गरीबों की मदद हो कोई भूखा न सोये।

राकेश कुमार सिंह, जिलाधिकारी

एक हजार की धनराशि वितरण

47998 लोगों को 47998000 रुपए श्रम विभाग ने पहुंचाए

14288 गरीब बेसहारा लोगों को 14288000 रुपए ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचे

13283 लोगों को शहरी क्षेत्र में 13283000 रुपए प्राप्त करवाए गए

557054 परिवारों को राशन की दुकानों के माध्यम से 11043.360 एमटी खाद्यान्न वितरण

खाने के पैकेट बांटने का विवरण (25 मार्च से अब तक)

किचेन प्रतिदिन पैकेट अब तक वितरण

सरकारी 4 8500 184380

कम्युनिटी 17 15943 516584

कुल 21 24443 700964

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:75 thousand people in Moradabad got help of 7 5 million