अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नोहे व मरसिए पढ़ निकाला गया जुलूस

नोहे व मरसिए पढ़ निकाला गया जुलूस

चांद दिखते ही मोहर्रम का पर्व मंगलवार की शाम शुरु हो गया। इमाम चौक से गिरोह जुलूस निकाला गया। इमाम आली मकाम की शान में नोहे और मरसिया पढ़ते हुए जुलूस एक चौक से दूसरी चौक तक गया। जिसमें अकीदतमंदों ने फातह ख्वानी करा लंगर बांटा। सुरक्षा-व्यवस्था की दृष्टि से पुलिस बल तैनात रहा।

शहर के चौसियापुरा मोहल्ला स्थित इमाम चौक से सिद्दीक अली के नेतृत्व में मंगलवार की देर शाम गिरोह जुलूस निकाला गया। जो सब्जी मंडी, मुख्य बाजार, तमराई बाजार होते हुए पठनऊपुरा स्थित इमाम चौक पहुंचा। जहां हाजिरी देने के बाद इमाम आली मकाम की शान में नोहे व मरसिए पढे़ गए। गिरोह जुलूस में शामिल अकीदतमंद बुलंद आवाज से मरसिए पढ़ते रहे। अकीदतमंदों ने गिरोह में शामिल लोगों को लंगर वितरित किया। बताया कि मोहर्रम की पांचवी तारीख तक रोजाना शाम को चौसियापुरा की इमाम चौक से गिरोह जुलूस उठेगा। जो अलग-अलग दिन शहर की कई इमाम चौक में पहुंच हाजिरी देगा। जुलूस में रोजाना सैकड़ों की संख्या में अकीदतमंद शामिल होते हैं। शांति व्यवस्था की दृष्टि से पुलिस बल पूरी तरह चौकन्ना रहा। जो जुलूस के साथ-साथ चल व्यवस्थाएं परखता रहा। वही बुधवार को इमाम चौकों में ताजिया बनाने का भी सिलसिला शुरु हो गया। पर्व को लेकर मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में खासी चहलकदमी बढ़ गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Noise and Marsea Learned Process