DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गणेश उत्सव आज , पंडालों में विराजेंगे गणपत्ति बप्पा

गणेश उत्सव आज , पंडालों में विराजेंगे गणपत्ति बप्पा

गणेश उत्सव पर्व को लेकर पंडाल समितियों के सदस्यों में खुशी की लहर है। पंडाल सजाने की तैयारियां जोरो पर चल रही हैं। गुरुवार की शाम पंडालों में गणपत्ति बप्पा विराजमान होंगे। जिसके बाद पूजा-अर्चना की जाएगी और गणपत्ति बप्पा मौर्या के जयकारों से 10 दिन तक पंडाल गुंजायमान होगा। 11 वे दिन धूमधाम के साथ गणपति बप्पा को विदा किया जाएगा।

शिव पुराण के अनुसार गणेश उत्सव सदियों से मनता चला आ रहा है। सर्वप्रथम पेशवाओं के राजा माधव राव पेशवा ने महाराष्ट्र स्थित पूना के राजमहल में इस उत्सव को प्रारंभ किया था। कुछ समय बाद अंग्रेजों का यहां आगमन हुआ और फूट डालो व राजनीति करो की नीति से राजाओं को छिन्न-भिन्न कर दिया था। जिससे यह उत्सव कुछ समय के लिए फीका पड़ गया था लेकिन उसी समय क्रांतिकारी नेता लोकमान्य तिलक ने सभी को संगठित करने के उद्देश्य से गणेश उत्सव पर्व धूमधाम से मनाया था। यह पर्व भारत के दक्षिण व पश्चिम में उत्साह के साथ मनाया जाता है। कबरई प्रतिनिधि के मुताबिक पर्व को लेकर पंडाल सजाने की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। नगर के बस स्टैंड व विशाल नगर मोहल्ले में पंडाल सजाया जाता है। जहां गुरुवार की शाम गणपति बप्पा विराजेंगे और माहौल पूरी तरह उत्सव में बदल जाएगा। गणेश उत्सव पर्व को लेकर पंडाल कमेटी के सदस्यों में खुशी की लहर दौड़ रही है। शहर में भी आधा दर्जन स्थानों पर पंडाल सजाए जा रहे हैं। जिनमें तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। इसके अलावा चरखारी, पनवाड़ी व अन्य स्थानों पर पंडाल सजाए जा रहे हैं। बुधवार की शाम से गणपत्ति बप्पा मौर्या की गूंज चारों तरफ गूंजेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ganapati Bappa will celebrate Ganesh Utsav today Pandals