अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फसल को चट कर रहे अन्ना जानवर

फसल को चट कर रहे अन्ना जानवर

अन्ना जानवरों के आतंक से किसान इस समय बेहद परेशान है। दिन-रात रखवाली करने के बावजूद पलक झपकते ही वह खेतों में फसलों को चट करने में कोई गुरेज नहीं कर रहे हैं। रविवार को ग्राम प्रधान के नेतृत्व में ग्रामीणों ने डीएम को एक पत्र भेजा है। जिसमें पशु पालकों को जानवर छोड़ने से मना करने की मांग उठाई है।

बम्हौरी काजी गांव की प्रधान ममता सिंह के नेतृत्व में साहब सिंह, सुरेश सिंह, चन्द्रपाल सिंह, स्वराज राठौर, अजीत पाल सिंह, कुबेर सिंह, कुदार सिंह राजावत,त्रिलोक सिंह, रामगोपाल सिंह, उज्जवल सिंह, विकट सिंह सहित दर्जनों की संख्या में ग्रामीणों ने रविवार को डीएम रामविशाल मिश्रा को एक शिकायती पत्र भेजा है। जिसमें आरोप लगाया है कि उनके मौजे की 85 प्रतिशत फसलों की बुवाई हो चुकी है और 15 प्रतिशत भूमि पलैवा होकर फसलों की बुवाई के लिए बांछित पड़ी है। उनके गांव में करीब एक सैकड़ा अवारा जानवर घूम रहे थे जिसे उन लोगों ने मिलकर बांध लिया है लेकिन गांव के बगल से उटिया मौजा स्थित है। जहां पर कुल 2-4 खेत ही बुव सके । जिसके फलस्वरूप उटिया के ग्रामीणों ने अपने पूरे जानवर छोड़ दिए हैं। जिससे उनकी फसलें नष्ट हो रही हैं। इस संबंध में वह वहां के ग्राम प्रधान को अवगत करा चुके हैं लेकिन समस्या का कोई हल नहीं निकल सका। मांग की है कि जानवर छोड़ने हेतु उटिया के ग्रामीणों पर रोक लगाई जाए जिससे उनकी फसलें बच सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Anna animal catching the crop