DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  मिर्जापुर  ›  बरसात बनी आफत कहीं गिरे घर तो कहीं पेड़
मिर्जापुर

बरसात बनी आफत कहीं गिरे घर तो कहीं पेड़

हिन्दुस्तान टीम,मिर्जापुरPublished By: Newswrap
Sat, 19 Jun 2021 03:10 AM
मिर्जापुर। संवददाता
 लगतार तीन दिनों से हो  रही रुक-रुक कर बरसात आफत का सबब
1 / 4मिर्जापुर। संवददाता लगतार तीन दिनों से हो रही रुक-रुक कर बरसात आफत का सबब
मिर्जापुर। संवददाता
 लगतार तीन दिनों से हो  रही रुक-रुक कर बरसात आफत का सबब
2 / 4मिर्जापुर। संवददाता लगतार तीन दिनों से हो रही रुक-रुक कर बरसात आफत का सबब
मिर्जापुर। संवददाता
 लगतार तीन दिनों से हो  रही रुक-रुक कर बरसात आफत का सबब
3 / 4मिर्जापुर। संवददाता लगतार तीन दिनों से हो रही रुक-रुक कर बरसात आफत का सबब
मिर्जापुर। संवददाता
 लगतार तीन दिनों से हो  रही रुक-रुक कर बरसात आफत का सबब
4 / 4मिर्जापुर। संवददाता लगतार तीन दिनों से हो रही रुक-रुक कर बरसात आफत का सबब

मिर्जापुर। संवददाता

लगतार तीन दिनों से हो रही रुक-रुक कर बरसात आफत का सबब बनने लगी है। गांव से लेकर शहरी जन-जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। किसी का घर गिरा तो कहीं पेड़ गिरने से आवागमन बाधित रहा। ग्रामीण क्षेत्रों में भी लगातार हो रही बरसात परेशानी का सबब बन गया है। नगर के बथुआ,सुरकापुरम कालोनी,इमामबाड़ा,जीआईसी के सामने बीएलजे मैदान आदि स्थानों पर जल जमाव हो गया है।नगर पालिका कर्मचारी टूल्लू मशीन,पंप आदि लेकर जगह-जगह पानी की निकासी को लेकर परेशान रहे। वहीं नगर के गणेशगंज में रोड पर नीम का पुराना पेड़ गिरने से सुबह से लेकर दोपहर 12 बजे तक आवगमन बाधित रहा। साथ ही क्षेत्र की बिजली आपूर्ति भी बाधित रही। नगर पालिका कर्मचारियों ने पेड़ काट कर हटाया तब जाकर यातायात बहाल हो सका।

हलिया क्षेत्र में 48 घंटे से लगातार हो रही बारिश के चलते कई जगह घरों में पानी घुस गया। कच्चे घरों के उपर खपरैल के छाजन को ठीक नहीं हो पाने से कई घर धराशाई भी हो गए। सोनगढ़ा गांव के नरेन्द्र प्रसाद दुबे, सिकटा गांव के मनबोध कोल का बरसात से कच्चा मकान भरभरा कर गिर गया। संजोग ही दिवाल की मिट्टी गिरते देख परिजन घर से बाहर भाग निकले। जिससे कोई सभी सुरक्षित बच गए। घर रखा गेहूं, चावल, चना समेत खाने-पीने के सामान, चारपाई बिस्तर मलबे में दब गये।

राजगढ़ क्षेत्र में लगातार हो रही तेज बरसात से खेतों में पानी भर गया है। वहीं नदी-नाले उफान पर हैं। भारी बारिश में राजगढ़ गांव के राधेश्याम केशरी का कच्चा मकान भरभरा कर गिर गया। मलबे के नींचे दबकर भूसा पूरी तरह भीग कर बर्बाद हो गया। भूसा के भीगने से पशुओं के लिए चारा का संकट उत्त्पन्न होने से किसान राधेश्याम काफी परेशान है।

संबंधित खबरें