DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  मिर्जापुर  ›  धूम्रपान से 20 लाख लोगों की प्रत्येक वर्ष होती है मौत

मिर्जापुरधूम्रपान से 20 लाख लोगों की प्रत्येक वर्ष होती है मौत

हिन्दुस्तान टीम,मिर्जापुरPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 03:10 AM
धूम्रपान से 20 लाख लोगों की प्रत्येक वर्ष होती है मौत

मिर्जापुर। संवाददाता

अंतरराष्ट्रीय तंबाकू निषेध/विश्व धूम्रपान निषेध दिवस के उपलक्ष्य में सोमवार को विज्ञान,प्रौद्योगिकी परिषद की ओर से संचालित जिला विज्ञान क्लब के तत्वधान में वर्चुअल कार्याशाला आयोजित की गई। जिसमें 57 बाल वैज्ञानिकों ने भाग लिया। विशेषज्ञ के रूप में जिला समन्वयक सुशील कुमार पांडेय, रसायन शास्त्री डॉक्टर अरुण कुमार, हार्ट रोग विशेषज्ञ डॉक्टर पंकज कुमार रहे। कोविड-19 के जानलेवा संक्रमण के दौर में धूम्रपान से होने वाले नुकसान के बारे में विस्तार से चर्चा की गई। साथ ही बाल वैज्ञानिकों को किसी भी प्रकार के नशे से दूर रहने की शपथ दिलाया गया। जिला समन्वयक धूम्रपान से एकत्रित होने वाले टार के प्रभाव को प्रयोग के माध्यम से समझाया। रसायन शास्त्री डॉ अरुण कुमार ने बतायाकि निकोटियाना प्रजाति के पेड़ के पत्तों को सुखाकर बनाए जाने वाले तंबाकू का खास तौर पर नशे के लिए प्रयोग किया जाता है। जलने पर तंबाकू टार नामक विशिष्ट पदार्थ पैदा करता है। जो धुएं के साथ फेफड़े में पहुंच कर कोशिकाओं को नष्ट करता है। प्रत्येक वर्ष 20लाख लोगों की मौत तंबाकू सेवन करने से होती है। शोधार्थी छात्र राजेंद्र कुमार ने बताया कि नशा करने वालों पर कोरोना वैक्सीन का असर कम हो सकता है। विनायक, आशीष, रवि ने कार्यक्रम में सहयोग किया।

संबंधित खबरें