DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुकानदारों के सिक्का न लेने पर हो रही झड़प

मां विंध्यवासिनी की नगरी में प्रतिदिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु मां के दर्शन-पूजन के लिए आते है। इस दौरान दुकानों पर सामान खरीदने पर सिक्के के लेन-देन पर आए दिन झड़प होती है। ग्राहक दुकानदार पर सिक्का न लेने का आरोप लगाते है तो दुकानदारों का रोना है कि बैंक सिक्के जमा नहीं करता है। दुकानदारों के सिक्का न लेने पर श्रद्धालुओं को काफी समस्या का सामना करना पड़ता है। एक, दो, पांच और दस के सिक्के इस समय चलन में है। सरकार के तरफ से सिक्कों के चलन में किसी प्रकार का कोई रोक नही लगाया गया है, पर दुकानदार अपनी मजबूरी का रोना रोते है। उनका कहना है की 10 रुपया से ज्यादा का सिक्का हम नही लेंगे क्योंकि बैंक में सिक्को को जमा नही किया जाता। इससे हम लोगों को काफी दिक्कत होती है। सिक्को के चलते बड़ी पूंजी फंस जाती है। इसलिए हम लोग ज्यादा सिक्का नही लेते। ग्राहक सिक्का न लेने पर दुकानदार से लड़ते है, पर उन्हें ज्यादा सिक्का दिजिए तो वो नहीं लेते। मां विंध्यवासिनी मंदिर पर चढ़ोत्तरी होने के कारण क्षेत्र में सिक्को की अधिकता है और प्रतिदिन काफी मात्रा में मंदिर से सिक्के बाजार में चलन के लिए आते है। इसलिए क्षेत्र में सिक्को को लेकर समस्या अधिक है। एसबीआई के मैनेजर प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया के नियम के अनुसार एक सप्ताह में 100 सिक्के ही जमा किये जा सकते है। उसके अतिरिक्त जमा करने पर कटौती किया जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:rift between shopkeepers and passangers due to no taking coins