DA Image
10 अप्रैल, 2020|11:41|IST

अगली स्टोरी

नवरात्र मेले की तैयारी में जुटा प्रशासन

विंध्याचल में शारदीय नवरात्र मेला 20/21 सितंबर की रात से शुरु हो रहा है। नवरात्र मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा मुहैया कराने के लिए डीएम विमल कुमार दुबे ने शुक्रवार को दोपहर बाद कलक्ट्रेट सभागार में विभिन्न विभागों के अफसरों की बैठक ली। उन्होने कहा कि नवरात्र मेले की तैयारी समय से पूरी कर ली जाए। इसमें किसी भी तरह की लापरवाही वर्दाश्त नहीं की जाएगी। 

डीएम ने कहा कि शारदीय नवरात्र मेला 29 सितंबर तक चलेगा। मेले में श्रद्धालुओं का आगमन शुरू होने से दो दिन पहले आरम्भ हो जाता है। देश के सर्वाधिक प्रसिद्ध इस मेले की व्यवस्थाओं की तैयारी में किसी तरह की लापरवाही कदापि न बरती जाए। जिन विभागों को जो कार्य करना है वे समय से अपना कार्य पूरा करा दे। डीएम ने नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी को निर्देश दिए कि विंध्याचल के साथ ही अष्टभुजा और कालीखोह मंदिरों के आसपास साफ-सफाई करा ले। गंगा घाटों पर बैरिकेडिंग और अस्थाई शौचालय का भी निर्माण समय से पूरा करा लिया जाए। 

बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता को निर्देश दिए कि मेले के दौरान 24 घंटे विद्युत आपूर्ति के लिए उच्चाधिकारियों को पत्र भेज कर अवगत करा दिया जाए। इसके अलावा ढीले तार को कसवाने के साथ ही अतिरिक्त ट्रांसफार्मर की भी व्यवस्था कर ले। एडीएम विजय बहादुर सिंह ने कहा कि मेला क्षेत्र में लगे विद्युत पोलों पर नम्बर दर्ज कर उस पर पालीथीन बंधवाया जाए। पशु पालन विभाग के अफसरों को आवारा पशुओं को पकड़वाने व विकास प्राधिकरण को मंदिर की सजावट कराने का निर्देश दिए। मेला क्षेत्र की सड़कों और बिगड़े हैण्ड पम्पों की मरम्मत समय से करा ले। सूचना विभाग को सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन व प्रदर्शनी भी लगायी जाए। 

डीएम ने कहा कि सप्ताह भर बाद प्रगति की समीक्षा की जाएगी और एसपी के साथ स्थलीय निरीक्षण भी किया जाएगा। एसपी आशीष तिवारी ने कहा कि मेला क्षेत्र में सुरक्षा की व्यवस्था बेहतर की जाएगी। इस मौके पर सीडीओ प्रियंका निरंजन, नगर मजिस्ट्रेट डीपी मिश्रा, एसडीएम सदर डा. अविनाश त्रिपाठी, मड़िहान की सविता यादव, लालगंज के लल्लनराय व चुनार के एसडीएम और अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।