DA Image
19 जनवरी, 2021|4:44|IST

अगली स्टोरी

बारिश में वज्रपात की चपेट में आने से नौ झुलसे

बारिश में वज्रपात की चपेट में आने से नौ झुलसे

1 / 2जिले में बुधवार की रात व गुरूवार को दोपहर बाद तेज हवा के साथ हुयी झमाझम बारिश से हलिया व मड़िहान और अहरौरा में गिरी आकाशीय बिजली की चपेट में आने से नौ लोग झुलस...

बारिश में वज्रपात की चपेट में आने से नौ झुलसे

2 / 2जिले में बुधवार की रात व गुरूवार को दोपहर बाद तेज हवा के साथ हुयी झमाझम बारिश से हलिया व मड़िहान और अहरौरा में गिरी आकाशीय बिजली की चपेट में आने से नौ लोग झुलस...

PreviousNext

जिले में बुधवार की रात व गुरूवार को दोपहर बाद तेज हवा के साथ हुयी झमाझम बारिश से हलिया व मड़िहान और अहरौरा में गिरी आकाशीय बिजली की चपेट में आने से नौ लोग झुलस गए। परिजनों ने झुलसे लोगों को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। राजगढ़ संवाद अनुसार क्षेत्र में चार दिनों से लगातार बारिश हो रही है। भीटी गांव निवासिनी मनीषा (18), पूजा (19), नेहा (18) व 45 वर्षीय चरकी पत्नी प्रेम कुमार सभी कमरे में बैठे थे। गुरुवार की शाम बारिश के दौरान तेज गरज चमक के साथ गिरी आकाशीय बिजली की चपेट में आने से चारों झुलस गए। वहीं राजगढ़ के लूसा गांव निवासिनी 32 वर्षीय संजू पत्नी राकेश भी वज्रपात से झुलस गयी। परिजनों ने हालत गंभीर देख आनन-फानन में सभी को राजगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर भर्ती कराया। हलिया संवाद अनुसार सुइयाकलां गांव निवासी विष्णु 28 व देवकली 48 घर के बरामदे में बैठे थे। गुरुवार की दोपहर तेज बारिश होने लगी। बारिश के दौरान गिरी आकाशीय बिजली की चपेट में आने से दोनों झुलस गए। परिजनों ने आनन फानन में उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हलिया में भर्ती कराया। ड्रमंडगंज संवाद अनुसार लालगंज थाना क्षेत्र के कनोखर गांव निवासी सीताराम का मकान है। घर पर ही किराए पर पोस्ट आफिस है। सीताराम का लड़का हरीशंकर पोस्ट मास्टर है। सुबह कुछ लोग रुपये निकलवाने के लिए आए थे। वहीं घर परिवार के सदस्य मकान के बाहर बारजे के नीचे बैठे हुए थे। दो दिनों से हो रही बारिश के चलते अचानक मकान का बारजा भरभरा कर ढह गया। मकान के नीचे बैठे ढहे बारजे के मलबे की चपेट में आने से जख्मी हो गए। बारजा गिरते ही अफरा तफरी मच गयी। स्थानीय लोगों ने तत्काल घायलों को लालगंज अस्पताल में भर्ती कराया। घायलों में विजय कुमार 35, आशीष कुमार 22 को गंभीर चोट आयी। जबकि चंन्द्रशेखर 40 व उमेशचंद्र 65 मामूली रुप से जख्मी हुए। वहीं मलबे में दबकर चार मोटरसाइकिल भी क्षतिग्रस्त हो गयी। जिगना संवाद अनुसार देवरी बरहां गांव निवासी मकान मालिक लालमनि सोनकर देर शाम भोजन करने के बाद अपने परिवार संग कमरे में सो रहे थे। रात लगभग एक बजे अचानक बारिश के चलते पेड़ मकान के छत व पेड़ की डाल दो झोपड़ी पर जा गिरा। छत व दीवार के टूकड़े व ईंट गिरने से अंगूरा (45) देवी, करीना (8), रवीना (6), ऊषा देवी (22) व आयुष (12) चोटिल हो गए। पेड़ गिरते ही आस-पास के लोग पहुंच गए। ग्रामीणों ने सभी को किसी तरह बाहर निकाला। घायलों को पास के निजी अस्पताल में भर्ती कराया। प्रधान राम छबीले निषाद ने बताया कि एसडीएम सदर को पेड़ गिरने से हुई क्षति के बारे में बताया गया है। उन्होंने मौके पर राजस्व कर्मियों को भेजकर क्षति का आंकलन करने का निर्देश दिया है। अहरौरा संवाद के मुताबिक क्षेत्र के बेलखरा निवासी अनिल (19) व पिंटू (20) जंगल से लकड़ी लेकर आते समय झुलस गए। दोनों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nine scorched due to thunderstorm in rain