DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कार्यशाला में किशोर न्याय अधिनियम की दी गई जानकारी

राष्ट्रीस जन सहयोग एवं बाल विकास संस्थान लखनऊ की ओर से शनिवार को पुलिस लाइन स्थित मनोरंजन कक्ष में समेकित बाल संरक्षण योजना एंव किशोर न्याय बालकों की देखरेख और संरक्षण अधिनियम 2015 पर एक दिवसीय अभिमुखीकरण कार्यशाला हुई। कार्यशाला का शुभारंभ मुख्य अतिथि जिला प्रोबेशन अधिकारी डा. अमरेंद्र कुमार पौत्स्यायन ने किया। 
उन्होंने प्रशिक्षण कार्यक्रम में किशोर न्याय अधिनियम-2015 के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। क्षेत्रिय निदेशक निफसेड डा. मोनिका शर्मा ने विभिन्न बाल अधिकारों की जानकारी दी। साथ ही उपस्थित पुलिस पदाधिकारियों को बताया कि कोई बच्चा उनको संकटावस्था में प्राप्त होता है तो तत्काल उसे बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत करें।  सहायक निदेशक  निफसेड सुनील कुमार ने जेजे एक्ट पर विस्तार से प्रकाश डाला। प्रशिक्षण कार्यक्रम में मंडल के तीनो जनपदों के बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष, सदस्य, किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य, जिला बाल संरक्षण इकाई के सदस्य, 181 महिला हेल्प लाइन की टीम समित 70 प्रतिभागी मौजूद रहे। संचालन बाल संरक्षण अधिकारी डा. रमेश कुमार ने किया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Information provided by the Juvenile Justice Act in the workshop