DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › मिर्जापुर › सीएमओ ने दो अस्पतालों को दी नोटिस, नहीं मिला संतोष जनक जवाब
मिर्जापुर

सीएमओ ने दो अस्पतालों को दी नोटिस, नहीं मिला संतोष जनक जवाब

हिन्दुस्तान टीम,मिर्जापुरPublished By: Newswrap
Wed, 02 Jun 2021 03:10 AM
सीएमओ ने दो अस्पतालों को दी नोटिस, नहीं मिला संतोष जनक जवाब

मिर्जापुर। संवाददाता

कोविड के मरीजों से धन उगाही किए जाने के मामले में मुख्य चिकित्साधिकारी डा. पीडी गुप्ता ने दो अस्पतालों को नोटिस जारी की थी। इनमें एक अस्पताल ने मरीजों के इलाज के लिए तय किए गए शुल्क की सूची भेज दी। वहीं दूसरे अस्पताल ने अभी तक नोटिस का जवाब ही नहीं दिया। सीएमओ ने दोनों अस्पतालों को रिमाइडर देने का फैसला किए है। उन्होंने कहाकि यदि सप्ताह भर में संतोष जनक जवाब न मिला तो दोनों अस्पतालों के खिलाप कठोर कार्रवाई की जाएगी।

बीते मई माह के पहले सप्ताह में जब कोरोना की दूसरी लहर पूरे उफान पर थी तब पीड़ित मरीजों के तीमारदारों ने नगर के नटवां स्थित पापुलर नर्सिंग होम और ओझला स्थित राम कृष्ण मिशन अस्पताल की शिकायत की थी। तीमारदारों ने इन अस्पतालों में मरीजों का आर्थिक शोषण करने का आरोप लगाया था। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. पीडी गुप्ता ने मरीजों को तीमारदारों की शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए दोनों अस्पतालों के संचालकों को पखवारे भर पूर्व नोटिस जारी कर जवाब मांगा था। सीएमओ ने बताया कि पापुलर नर्सिंग होम की तरफ से नोटिस का जवाब देने की बजाय मरीजों के इलाज के लिए अस्पताल प्रबंधन की तरफ से तय किए गए शुल्क की सूची भेजी गयी है। वहीं राम कृष्ण मिशन अस्पताल की तरफ से नोटिस का कोई जवाब ही नहीं दिया गया। उन्होंने कहाकि दोनों अस्पतालों ने नोटिस का संतोष जनक जवाब नहीं दिए है। दोनों अस्पतालों के संचालकों को शीघ्र ही रिमाइंडर भेजा जाएगा। यदि रिमाइडर दिए जाने के सप्ताह भर के अंदर जवाब नहीं मिलता है तो कठोर कार्रवाई की जाएगी।

संबंधित खबरें