DA Image
3 दिसंबर, 2020|7:02|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे में काम बाधित, भोजपुर में धरना

default image

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे में एक समान मुआवजे की मांग को लेकर लगातार दूसरे दिन भी काम बाधित रहा। किसानों ने कहा है कि प्रशासन या तो सीधी वार्ता करे, अन्यथा अब किसान एक्सप्रेस-वे पर पशु बांधकर अवरुद्ध करेंगे। 24 घंटे में वार्ता न हुई तो अब आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी। उधर, किसानों ने प्रभावित गांवों में पंचायत शुरू कर दी है।

भोजपुर गांव में एक समान मुआवजे को लेकर किसानों का धरना गुरुवार को भी जारी रहा। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर धरना देने वाले किसानों ने गांवों में जाकर वार्ता की। किसानो से बातचीत की। किसानों ने कहा कि प्रशासन अब गुमराह कर रहा है। केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी से वार्ता की बात कही गई, लेकिन कोई वार्ता नहीं कराकर गुमराह किया गया। अब अगर शुक्रवार को प्रशासन की तरफ से कोई वार्तालाप नही होती तो किसान एक्सप्रेस-वे पर पशुओं को बांधने का काम किया जाएगा। आंदोलन की अगुवाई कर रहे किसान नेता सतीश राठी व सपा नेता पवन गुर्जर का कहना है कि शुक्रवार को रणनीति बनाकर एक्सप्रेस-वे पर पशुओं को बाँधकर काम बन्द करेंगे। गुरुवार को किसान नेता महबूब सोलना , हाजी जुनेद काशी , निशान्त भड़ाना , प्रखर जाट आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Work interrupted in Delhi-Meerut Expressway picket in Bhojpur