ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मेरठहम जिसके साथ आए, उसकी सरकार बनी : राजभर

हम जिसके साथ आए, उसकी सरकार बनी : राजभर

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में कोई लड़ाई नहीं है। भाजपा सबसे मजबूत...

हम जिसके साथ आए, उसकी सरकार बनी : राजभर
हिन्दुस्तान टीम,मेरठSat, 24 Feb 2024 02:15 AM
ऐप पर पढ़ें

मेरठ। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में कोई लड़ाई नहीं है। भाजपा सबसे मजबूत स्थिति में है। पूरे देश में मोदी की लहर है। सहयोगी दलों के किनारा करने से इंडिया गठबंधन समाप्त हो चुका है।

ओमप्रकाश राजभर शुक्रवार शाम एक वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने मेरठ पहुंचे। मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी से गठबंधन करना राजनीतिक दलों के लिए शुभ होता है। वह जिस भी पार्टी के साथ जाते हैं, वह मजबूत होती है। जब वह बीजेपी के साथ थे तो भाजपा ने 325 सीट जीती। उन्होंने साथ छोड़ा तो भाजपा 265 पर आ गई। अब वह फिर आ गए हैं तो इस बार आंकड़ा चार सौ के पार होगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा से लोकसभा चुनाव में यूपी में तीन और बिहार में दो सीटें मांगी हैं। पूर्वांचल की 28 में से किसी भी तीन सीट पर वह लड़ने को तैयार हैं। अभी सीटों का बंटवारा नहीं हुआ है। जल्द इसका ऐलान हो जाएगा। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में पिछड़ों को आरक्षण का लाभ नहीं मिला। सपा ने उनको वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया।

जयंत ने सही समय पर सही कदम उठाया

ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी बड़े नेता हैं। उनकी पार्टी का मजबूत वोट बैंक और जनाधार है। उन्होंने सही समय पर सही कदम उठाया है। उनके आने से बीजेपी मजबूत होगी।

किसानों की मांग जायज

किसान आंदोलन पर राजभर ने कहा कि किसानों की मांग जायज है। किसानों को उनकी लागत का पूरा मूल्य नहीं मिल पा रहा है। फसलों का मूल्य निर्धारित होना चाहिए। वह किसानों का दर्द समझते हैं लेकिन उनको आंदोलन के बजाय वार्ता का रास्ता अपनाना चाहिए। सरकार किसानों के साथ है।

वैश्य रेजिमेंट बनाई जाए

ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि व्यापारी वर्ग देश में सबसे ज्यादा टैक्स देता है। जिस तरह जाट और अन्य रेजिमेंट बनी हैं, उसी तरह व्यापारी रेजिमेंट का गठन होना चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों में व्यापारियों का शोषण होता था। भाजपा सरकार आने के बाद व्यापारियों से गुंडा टैक्स की वसूली बंद हो गई है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें