DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  मेरठ  ›  वेबसाइट बंद, फंसी गेहूं खरीद, नहीं हो रहे नए पंजीकरण

मेरठवेबसाइट बंद, फंसी गेहूं खरीद, नहीं हो रहे नए पंजीकरण

हिन्दुस्तान टीम,मेरठPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 04:10 AM
वेबसाइट बंद, फंसी गेहूं खरीद, नहीं हो रहे नए पंजीकरण

मवाना। संवाददाता

पहले तौल लिमिट लगी वह हटी तो अब नई मुसीबत सामने आ गई है। गेहूं बेचने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की वेबसाइट चार दिनों से बंद है। इस कारण नए पंजीकरण नहीं हो रहे हैं। बिना पंजीकरण के गेहूं नहीं खरीदा नहीं जा रहा।

हस्तिनापुर रोड स्थित कृषि उत्पादन मंडी समिति परिसर में भारतीय खाद्य निगम, प्रादेशिक कोऑपरेटिव फेडरेशन और आदर्श बहु उदे्दश्य कृषि उत्पादन सहकारी समिति मवाना के गेहूं खरीद केंद्र स्थापित हैं। तीनों खरीद केन्द्र एक अप्रैल से खुल गए थे। पिछले एक हफ्ते से यहां किसान गेहूं बेचने को अधिक संख्या में आ रहे हैं। इससे खरीद केंद्रों पर तैनात प्रभारियों को खरीद करने में परेशानी आ रही है। वहीं, चार दिनों से किसानों के लिए एक ओर नई मुसीबत पैदा हो गई है। गेहूं खरीद की पंजीकरण वेबसाइट बंद होने से किसान अधूरे रास्ते में फंसे हैं। वे कई दिनों से ट्रॉली लेकर मंडी समिति में खड़े हैं लेकिन अचानक वेबसाइट बंद होने से उनका फॉर्म ही ऑनलाइन नहीं हो पाया है। अभी क्षेत्र में लगभग 30 से 40 फीसदी किसानों का गेहूं बिक्री के लिए बाकी है।

गेहूं बेचने आए किसान बताते हैं कि मंडी समिति में पिछले कई दिनों से सुचारू रूप से तौल न होने को लेकर किसान कई दिनों तक मंडी समिति में तौल का इंतजार करते रहे। पहले बारदाना नहीं और बाद में एक कांटे से ही तौल होने की बात से परेशान किसान ट्रैक्टर-ट्रॉली सहित घर वापस चले आए थे लेकिन अब एक और परेशानी खड़ी हो गई है। चार दिन से ऑनलाइन आवेदन की वेबसाइट ही बंद है। किसानों को अपना गेहूं मंडी समिति में बेचने के लिए मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है।

वरिष्ठ विपणन अधिकारी प्रमोद शर्मा ने बताया कि उनके केंद्र पर अभी तक 8624 कुंतल गेहूं की खरीद हो पाई है, जबकि नवीन मंडी परिसर में बने प्रादेशिक कोऑपरेटिव फेडरेशन के केंद्र पर बिक्री अधिक हुई। सचिव हरेन्द्र सिंह ने बताया कि उनके केंद्र पर 13600 कुंतल गेहूं की खरीद हुई है। इसके अलावा आदर्श बहुउदे्दश्य कृषि उत्पादन सहकारी समिति मवाना केंद्र प्रभारी शिव कुमार ने बताया कि उनके केंद्र पर 12481 कुंतल गेहूं की खरीद हो सकी। उधर, एसडीएम कमलेश गोयल ने कहा कि उन्हें किसी किसान ने वेबसाइट बंद होने की जानकारी नहीं दी। वे जल्द वेबसाइट खुलवाने का प्रयास करेंगे।

संबंधित खबरें