VHP geeta sammelan - हवा की शुद्धिकरण को हुआ यज्ञ, गीता ज्ञान सम्मेलन में बरसा अमृत DA Image
13 नबम्बर, 2019|5:48|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हवा की शुद्धिकरण को हुआ यज्ञ, गीता ज्ञान सम्मेलन में बरसा अमृत

हवा की शुद्धिकरण को हुआ यज्ञ, गीता ज्ञान सम्मेलन में बरसा अमृत

शास्त्री नगर डी ब्लॉक स्थित सरस्वती शिशु मंदिर में आठ दिसम्बर को विश्व गीता संस्थान द्वारा गीता जयंती के उपलक्ष्य में समारोह हुआ। श्रीमद्भागवत गीता पारायण महायज्ञ के निमित्त श्रीगणपति होमार्चन कर भगवान श्री गणेश का आह्वान किया। इसके बाद गीता प्रतिनिधि सम्मेलन हुआ। विहिप के केंद्रीय मंत्री आचार्य राधाकृष्ण मनोड़ी ने व्याख्यान दिया। उन्होंने कहा कि स्वयं ईश्वर द्वारा गीता के उपदेश देने के कारण गीता शाश्वत ग्रंथ है,जिसका आधार लेकर ही हम इस पीढ़ी को संस्कारवान बना सकते हैं।

श्रम कल्याण परिषद के राज्यमंत्री पंडित सुनील भराला ने लोगों से अपील की कि जीवन मूल्यों को यदि हम समझ या जन जन को समझा सकते हैं तो वो श्रीमद्भागवत गीता से ही सम्भव हो सकेगा। आज समाज के बढ़ते पश्चिमी प्रभाव को कम किया जा सकेगा, इस यज्ञ से बढ़ते दूषित प्रदूषण पर भी रोक लगेगी।

सम्मेलन में विशेष रूप से आमंत्रित हड्डियों के विशेषज्ञ डॉ. संजय जैन ने भी अपने जीवन की आधारशिला गीता को बताया। गीता में धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष चारों को अपना कर्तव्य समझकर करने का सार ही गीता है। अध्यक्षता कर रहे आनंद प्रकाश अग्रवाल जी ने गीता के महत्व का मानव जीवन पर प्रभाव,व निर्माण को दृष्टिगोचर किया।

इस अवसर पर ओमप्रकाश शर्मा, ईश्वर चंद अग्रवाल, मनीष भारद्वाज, एडवोकेट नीलकमल शर्मा, जगतवीर त्यागी, जितेंद्र त्यागी, कमलेश शर्मा, नरेंद्र राष्ट्रवादी, रूपक अग्रवाल, ममता त्यागी, सुषमा सवेरा, मुकेश शर्मा, महिपाल भड़ाना, बबलू सागर, राजकुमार कौशिक, रूबी, जयभगवान वर्मा, राकेश गुप्ता, कृष्णकुमार शर्मा, आचार्य सोमवीर जी, पंडित रमेश रतूड़ी, अशोक शर्मा आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:VHP geeta sammelan