DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › मेरठ › 33 हजार की लाइन पर गिरा पेड़, पांच घंटे अंधेरे में रहा नगर
मेरठ

33 हजार की लाइन पर गिरा पेड़, पांच घंटे अंधेरे में रहा नगर

हिन्दुस्तान टीम,मेरठPublished By: Newswrap
Thu, 29 Jul 2021 04:40 AM
33 हजार की लाइन पर गिरा पेड़, पांच घंटे अंधेरे में रहा नगर

मवाना। संवाददाता

ढिकौली बिजलीघर से आ रही 33 हजार हाइटेंशन की लाइन पर मंगलवार रात 11 बजे पेड़ टूटकर गिर गया। इस कारण मवाना-मेरठ हाईवे स्थित बिजलीघर की आपूर्ति ठप हो गई जो मशक्कत के बाद सुबह चार बजे चालू हुई। इस कारण मवाना नगर बारिश के दौरान रात को पांच घंटे अंधेरा में रहा।

मवाना ढिकौली रोड पर 220 केवी सब स्टेशन है जहां से मेरठ मवाना रोड स्थित 33/11 केवी बिजलीघर को बिजली आपूर्ति की जा रही है। करीब दस बजे तेज हवा के साथ बारिश होने लगी। अधिक बारिश के चलते 33 हजार हाईटेंशन की लाइन पर पेड़ टूटकर गिर गया। इस कारण बिजली आपूर्ति पूरी तरह से ठप हो गई। इस पर बारिश में नगर में कार्यरत छह बिजली कर्मियों को बुलाया गया। बारिश में रात भर बिजलीकर्मियों ने लाइन पर गिरे पेड़ को धीरे-धीरे काटा और सुबह सवेरे चार बजे 33 हजार हाईटेंशन की लाइन के तार जोड़े गए जिसके बाद आपूर्ति सुचारू हो पाई। चार बजे मवाना नगर में अंधेरा समाप्त हुआ। गनीमत रही कि बारिश के चलते ज्यादा गर्मी नहीं रही।

उधर, उप खंड अधिकारी रामू प्रसाद पटेल ने बताया कि तेज बारिश में बिजलीकर्मियों ने पेड़ की डाली काटी और टूटे तारों को दोबारा जोड़ा। रात में बारिश में बिजलीकर्मियों का काम करना जोखिम भरा रहा। उधर, रात को तीन और फीडर बंद रहे। ढिकौली बिजलीघर से मसूरी, गढ़ी और सठला फीडर पर बुधवार को पेट्रालिंग कराई गई। पेट्रोलिंग के बाद लाइनों को दोपहर दो बजे तक ठीक कराकर तीनों फीडरों की बिजली आपूर्ति बहाल कराई गई।

संबंधित खबरें