DA Image
22 अक्तूबर, 2020|3:15|IST

अगली स्टोरी

चोरी प्रकरण : क्राइम ब्रांच ने शुरू की जांच

चोरी प्रकरण : क्राइम ब्रांच ने शुरू की जांच

मवाना। संवाददाता

मवाना खुर्द में पूर्व प्रधान समेत पांच किसानों के घरों में हुई लाखों की नगदी और जेवर चोरी मे शामिल चोरों का अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है। एसएसपी अजय साहनी ने इसके खुलासे के लिए क्राइम ब्रांच की टीम के साथ-साथ थाना प्रभारी सतीश कुमार ने बदमाशों की तलाश हेतु सिविल में एक टीम को लगाया है। क्राइम ब्रांच इंस्पेक्टर दिग्विजय टीम के साथ मवाना खुर्द पहुंचे और पीड़ित परिवार के सदस्यों से घटना की जानकारी ली।

बता दें कि गांव मवाना खुर्द में 16 अक्तूबर की रात गांव में चार घरों में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। वारदात के दौरान गांव में जाग होने के बाद चोरों को गिरोह सामान लेकर फरार हो गया था। वारदात के बाद गांव में पुलिस नहीं आई थी। उक्त मामले में ग्रामीणों ने घटना के अगले दिन हाईवे जाम कर चोरों को पकड़ने के साथ पुलिस चौकी का समस्त स्टाफ सस्पेंड कराने की मांग की थी। पुलिस अफसरों ने पुलिस चौकी मवाना खुर्द के चौकी इंचार्ज को लाइन हाजिर करते हुए स्टाफ को भी बदल दिया था।

मवाना खुर्द में हुई चोरी की वारदात के खुलासे को लेकर पुलिस प्रशासन ने एक हफ्ते का समय मांगा था। घटना के तीन दिन बीतने के बाद भी पुलिस खाली हाथ है। चोरी प्रकरण में रविवार को एसएसपी के निर्देश पर मवाना खुर्द पहुंची क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर दिग्विजय सिंह ने थाना प्रभारी मवाना सतीश कुमार के साथ पूर्व प्रधान ईश्वरचंद के साथ अन्य पीड़ित परिवार के लोगों ने भी घटना की जानकारी करने के बाद वकील समीर त्यागी के आवास पर लगे सीसीटीवी कैमरे में चोरों द्वारा दी गई चोरी की पूरी वारदात की वीडियो को देखा। क्राइम ब्रांच की टीम ने चोरी के मामले में सीसीटीवी के अलावा भी अन्य सबूत एकत्र करने शुरू कर दिए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Theft Case Crime Branch starts investigation