DA Image
1 मार्च, 2021|4:45|IST

अगली स्टोरी

जिस जमीन पर चाहता था कब्जा, वहीं से बना ध्वस्तीकरण के लिए रास्ता

जिस जमीन पर चाहता था कब्जा, वहीं से बना ध्वस्तीकरण के लिए रास्ता

1 / 2कुख्यात अपराधी बदन सिंह बद्दो ने जिस जमीन पर कब्जे का प्रयास किया था, उसी जमीन से होकर बद्दो के बंगले की ध्वस्तीकरण का रास्ता बनाया गया। दरअसल,...

जिस जमीन पर चाहता था कब्जा, वहीं से बना ध्वस्तीकरण के लिए रास्ता

2 / 2कुख्यात अपराधी बदन सिंह बद्दो ने जिस जमीन पर कब्जे का प्रयास किया था, उसी जमीन से होकर बद्दो के बंगले की ध्वस्तीकरण का रास्ता बनाया गया। दरअसल,...

PreviousNext

मेरठ। मुख्य संवाददाता

कुख्यात अपराधी बदन सिंह बद्दो ने जिस जमीन पर कब्जे का प्रयास किया था, उसी जमीन से होकर बद्दो के बंगले की ध्वस्तीकरण का रास्ता बनाया गया। दरअसल, बद्दो की कोठी के बराबर में ही एक गोशाला थी, जिस पर बद्दो ने कब्जे का प्रयास किया था। इसके लिए पीछे वाले अपने पार्क की ओर से कोठी तक आने के लिए सीढ़ियां बना ली थीं। दूसरी ओर कोठी से पीछे के हिस्से में गेट लगाने के लिए जगह बनाई हुई थी। हालांकि, इस बीच वक्त बदला और बदन सिंह को सजा हो गई। इसके बाद ही जमीन मालिक अपनी जमीन की चारदीवारी करा सके।

बदन सिंह बद्दो की पंजाबी पुरा स्थित कोठी पर एमडीए का जेसीबी गुरुवार सुबह चलाया गया। इससे पहले पुलिस-प्रशासनिक और एमडीए की टीम ने व्यवस्था देखी कि महाबली को कहां से अंदर ले जाया जा सकता है, ताकि वह कोठी तक पहुंच सके। चूंकि कोठी तक जाने के लिए पंजाबी पुरा वाला रास्ता संकरा था, इसलिए इसे पीछे के रास्ते से लाया गया।

दोबारा दीवार बनाने का दिया आश्वासन

बदन सिंह की कोठी तक जाने के लिए कोई रास्ता नहीं था। ऐसे में कोठी के पीछे खाली प्लॉट से जेसीबी को अंदर ले जाने का निर्णय हुआ। इसी दौरान प्लॉट के मालिक विश्वबंधु मौके पर पहुंच गए। उन्होंने बताया कि यह गोशाला की जमीन है और अभी चारदीवारी कराई है। पुलिस ऐसे दीवार तोड़ देगी तो नुकसान होगा। हालांकि, पुलिस और एमडीए ने आश्वासन दिया कि गोशाला की दीवार को दोबारा पहले जैसा बनाकर दिया जाएगा। इसके बाद जिस गोशाला की जमीन पर बदन सिंह कब्जा करना चाहता था, वहीं से रास्ता बनाकर जेसीबी बद्दो की कोठी तक पहुंची और इसके बाद पूरी कोठी तोड़ डाली गई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The land that was wanted was occupied the way for demolition made from there