DA Image
23 अक्तूबर, 2020|5:00|IST

अगली स्टोरी

शासन ने पूछा, लॉकडाउन में कैसे खड़े हो गए अवैध निर्माण

default image

लॉकडाउन के दौरान लोगों ने धड़ल्ले से अवैध निर्माण कर लिए। कहीं फ्लैट बने तो कहीं कॉलोनियां तक काट दी गईं। मामले में शासन तक शिकायत हुई तो अफसरों से जवाब तलब किया गया। शासन ने अफसरों पूछा कि कैसे अवैध निर्माण हो गए, जिस पर अफसर जवाब नहीं दे पाए। अब रिपोर्ट मांगी गई है। आपके अपने प्रिय अखबार हिन्दुस्तान ने मामले को प्रमुखता से उठाया था, जिस पर शासन ने रिपोर्ट मांगी है।

अफसर नहीं दे पाए जवाब

शासन ने सभी प्राधिकरणों की समीक्षा की। इसमें मेरठ में लॉकडाउन के दौरान शहर से लेकर देहात तक अवैध निर्माण के कई मामले सामने आए। इस पर अफसरों से जब उनके जोन में अवैध निर्माण की स्थिति पूछी गई तो वे चुप्पी साध गए। इस पर कड़ा ऐतराज जताते हुए एमडीए की सीमा में अवैध निर्माण की स्थिति पूछी गई। जोनल प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र की जानकारी नहीं दे पाए। मामले में मंगलवार को एमडीए उपाध्यक्ष ने सभी जोनल प्रभारियों के साथ बैठक की और जमीनी स्तर पर पड़ताल के निर्देश दिए।

सील के बावजूद हुए निर्माण

शासन को शिकायत मिली कि कई इलाकों में पूर्व में सील किए गए निर्माण की सील तोड़कर निर्माण किए गए। कई जगह जहां सील तोड़ दी गई तो कहीं पर बिना अनुमति के ही निर्माण हुआ। एमडीए सचिव प्रवीणा अग्रवाल ने बताया कि सभी जोन प्रभारियों को निर्देश दिए गए हैं। वे देखेंगे कि लॉकडाउन से पूर्व कितनी सील लगाई गई, वह टूटी या नहीं, क्या स्थिति है, नोटिस दिए गए अवैध निर्माण की मौजूदा स्थिति क्या है। इन सभी बिंदुओं पर वे रिपोर्ट देंगे।

जोनल प्रभारियों को दिए टारगेट

उपाध्यक्ष राजेश कुमार पांडेय ने जोनल प्रभारियों को वसूली में तेजी लाने के साथ ही अवैध निर्माण रोकने के निर्देश दिए हैं। सभी जोन प्रभारियों को निर्धारित लक्ष्य भी दिया गया है। हर सप्ताह मॉनीटरिंग के आदेश भी दिए गए हैं।

बॉक्स ::::::::::::::::::::::

हॉटस्पॉट में स्टाफ, कैसे हो आकलन

एमडीए में अवैध निर्माण पर शासन की सख्ती के बाद अफसरों ने जमीनी हालात जांचने के आदेश दे दिए हैं। दूसरी ओर एमडीए में 30 अवर अभियंता हैं, जिनमें से सभी की हॉटस्पॉट में ड्यूटी लग गई है। वित्त नियंत्रक के साथ ही सहायक अभियंता समेत अन्य स्टाफ भी कोविड-19 की ड्यूटी में हैं। ऐसे में जमीनी सर्वे व आकलन आसान नहीं है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The government asked how illegal constructions stood in lockdown