DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैंपस से कॉलेजों तक बदलेगा अर्थशास्‍त्र का सिलेबस

चौ.चरण सिंह यूनिवर्सिटी कैंपस एवं संबद्ध कॉलेजों में नए सत्र में अर्थशास्त्र का सिलेबस बदल जाएगा। छात्रों को बाजार और इंडस्ट्री की मांग के अनुसार तैयार करने के लिए विवि ने अर्थशास्त्र का सिलेबस बदलने का फैसला लिया है। इसमें एमफिल और एमए का कोर्स एडवांस होगा। विवि ने सिलेबस बदलने के लिए बोर्ड ऑफ स्टडीज (बीओएस) बना दी है। अगले महीने से कोर्स में संशोधन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। कोर्स में कुछ नए टॉपिक को भी जोड़ा जाएगा।

विवि कैंपस के अर्थशास्त्र विभाग ने डीयू और सहित अन्य विवि के अनुसार ऑनर्स की पढ़ाई कराने के लिए अर्थशास्त्र में बीए-ऑनर्स की शुरुआत की है। चूंकि यह एडवांस कोर्स होगा, ऐसे में विवि ने कैंपस में एमए, एमफिल और बीए अर्थशास्त्र में बदलाव करने जा रहा है। एचओडी प्रो.दिनेश कुमार के अनुसार चूंकि कैंपस में अर्थशास्त्र में ही एडवांस कोर्स शुरू होने जा रहा है ऐसे में कॉलेजों में बीए-एमए अर्थशास्त्र जबकि कैंपस में एमफिल एवं अर्थशास्त्र विषय का सिलेबस बदला जाएगा। कोर्स को बाजार और इंडस्ट्री की जरुरत के मुताबिक कंटेंट को शामिल किया जाएगा। डॉ.दिनेश के अनुसार इसके लिए बीओएस गठित हो चुकी है और अगले महीने बैठक प्रस्तावित है।

कैंपस में शुरू होगा एमए ऑनर्स अर्थशास्त्र भी

प्रो.दिनेश के अनुसार कैंपस में बीए ऑनर्स अर्थशास्त्र के पासआउट अधिकांश स्टूडेंट को जॉब मिलने की उम्मीद है। इस कोर्स को इसी तरह से डिजाइन किया गया है ताकि स्टूडेंट आखिरी सेमेस्टर में इंडस्ट्री में जॉब पा सकें, लेकिन यदि छात्र इसी विषय में एमए ऑनर्स करना चाहेंगे तो विवि इसके लिए अभी से तैयार कर रहा है। कैंपस में जल्द ही एमए ऑनर्स अर्थशास्त्र भी शुरू किया जाएगा। अर्थशास्त्र में बीए एवं एमए ऑनर्स कांशीराम शोधपीठ में ही चलेंगी। इस शोधपीठ को बाकायदा विभाग की तरह विकसित किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:syllabus will change