DA Image
30 नवंबर, 2020|4:30|IST

अगली स्टोरी

सख्ती : दो शादी करने वाले के विदेश जाने पर रोक

default image

मेरठ। वरिष्ठ संवाददाता

मेरठ और रूस में दो शादी करने वाले व्यक्ति के विदेश जाने पर अदालत ने रोक लगा दी है। अदालत ने पुलिस को आदेश दिया है कि वह उक्त व्यक्ति को हर हफ्ते थाने में तलब करें, हाजिरी लगाएं।

कंकरखेड़ा बाइपास स्थित पॉश कॉलोनी में रहने वाली महिला टीचर ने 31 नवंबर 2019 को थाना जानी खुर्द में सचिन पंवार निवासी डी-125, फेज वन पल्लवपुरम के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। महिला के मुताबिक, सचिन से उनकी शादी 5 फरवरी 2012 को हुई थी। विवाह बाद उन्हें ससुराल में एक राशन कार्ड मिला। इसमें सचिन की पत्नी के रूप में नतालिया उर्फ नताशा का नाम लिखा था। पासपोर्ट में भी सचिन की पत्नी का यही नाम दर्ज था। जानकारी जुटाने पर पता चला कि सचिन ने रूस में रहते हुए पहले से एक शादी कर रखी थी। जानकारी छिपाकर उसने मेरठ में दूसरी शादी रचाई थी। पुलिस इस मामले में चार्जशीट पहले ही लगा चुकी है।

मुकदमा वादी के अधिवक्ता गौरव कुमार गोयल ने बताया कि अब वादी की ओर से एक पत्र एसीजेएम-7 की अदालत में डाला गया। आशंका जताई कि आरोपी सचिन पंवार विदेश भाग सकता है। ऐसे में अदालत ने पल्लवपुरम पुलिस को आदेश दिया कि कि वह सचिन को हर हफ्ते थाने पर बुलाकर हाजिरी लगवाएं। अदालत ने कहा कि थाने व अदालत की परमिशन बिना सचिन पंवार विदेश नहीं जा सकता। अदालत ने अपने आदेश पर पुलिस की आख्या 16 नवंबर तक मांगी है।

एनओसी पर मंत्रालय ने बैठाई जांच

सचिन पंवार के पास केंद्र सरकार के मंत्रालय की एक एनओसी भी है, जिसमें उसने खुद को अविवाहित दिखा रखा था। इस एनओसी के बाद उसका पासपोर्ट रिन्यूवल हुआ है। पासपोर्ट में उसने शादीशुदा दर्शा रखा है। इससे साफ है कि एनओसी गलत ढंग से जारी हुई है। मंत्रालय ने इस एनओसी पर भी जांच शुरू कर दी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Strictly two marriages are prohibited from going abroad