DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एशियाड में शिराज गोल्ड की ओर मनु ने वर्ल्ड शटलर को दी चुनौती

एशियाड में शिराज गोल्ड की ओर मनु ने वर्ल्ड शटलर को दी चुनौती

मेरठ के दो सूरमाओं ने एशियाड में मेडल के लिए एक बार फिर से फिर से जंग लड़ी। इसमें ओलंपियन शटलर मनु अत्री और शिराज शेख है। मनु अत्री- सुमित रेड्डी की युगल जोड़ी का इंडीविजुअल इवेंट के लिए वर्ल्ड के नंबर-2 शटलर चायना को हराना था, लेकिन वह एक अंतिम दौर में एक अंक से चूक गए। वहीं शिराज शेख ने 12 बोर स्कीट में अचूक निशाने के साथ दूसरे राउंड के लिए क्वालीफाई किया।

मोती प्रयाग कॉलोनी में रहने वाले पूर्व एथलीट कोच राजाराम के बेटे ओलंपियन मनु अत्री ने जकार्ता के एशियन में देश के लिए मेडल लाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। पूरी मेहनत के साथ मैदान में खेला। प्री-क्वार्टर फाइनल में मनु अत्री-सुमित रेड्डी का मुकाबला वर्ल्ड के नंबर-2 चीन के लि-जुनूही, लियू यूचेन से था। लेकिन मनु अत्री ने चीन को पूरी टक्कर दी। स्कोर 21-17, 17-21 चल रहा था। वह बढ़त बनाए हुए थे, लेकिन बाद में अंतिम राउंड तक चीन को पूरी चुनौती, लेकिन बाद के कुछ मिनट में एक प्वाइंट से हार का सामना करना पड़ा। 25-23 के स्कोर से चीन ने प्री-क्वार्टर जीता। लेकिन मनु ने हारकर भी शहरवासियों को दिल जीत लिया। चीन के वर्ल्ड नंबर-2 के पसीने छुड़ा दिये। हालांकि चीन के शटलरों ने मनु को शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई भी दी।

आज शिराज की चलेगी टॉप-6 के लिए गोली

मेरठ के एक ओर निशानेबाज हिस्ट्री रचने से कुछ ही कदम दूर है। क्योंकि शनिवार को हुए पहले राउंड को शिराज़ शेख ने क्वालीफाई कर लिया है। 12 बोर स्कीट में अचूक निशाना लगाकर दूसरे राउंड के लिए क्वालीफाई किया। अब शिराज रविवार को टाप-6 फाइनल राउंड के लिए निशाना साधेगा। इसके लिए शहरवासियों की उम्मीदे भी इस निशानेबाज से जुड़ी है। पिता मौ. यासीन शेख ने बातचीत में कहा कि मुझे अपने बेटे पर नाज है कि वह मेडल लाकर इतिहास रचेगा। बस मेडल से कुछ कदम दूर है। आज का मुकाबला हमारे लिए जीतना बहुत जरूरी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:siraj and manu atri