DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेल गए दरोगा के परिजनों से परेशान युवती गंगनहर में डूबने पहुंची

बीते दिनों पल्लवपुरम थाने से दरोगा को जेल भिजवाने वाली किठौर थाना क्षेत्र के ललियाना निवासी युवती ने गुरुवार सुबह सरधना गंगनहर में डबूने पहुंच गई। मौके पर मौजूद पुलिस ने किसी तरह युवती को बचाया और थाने ले आई। यहां पूछताछ में युवती ने जेल में बंद दरोगा के परिजनों पर मुकदमे में फैसला करने का दबाव बनाकर उत्पीड़न करने का आरोप लगाया। उसने कहा कि उत्पीड़न के चलते वह नहर में कूदने आई थी। पुलिस ने उसे समझाकर पुलिस सुरक्षा में घर भेज दिया।

बुधवार सुबह करीब साढ़े 11 बजे एक युवती स्कूटी से सरधना गंगनहर पुल पहुंची और आसपास चक्कर काटने लगे। गंगनहर पुल पर खड़ी डायल 100 पुलिस को युवती की गतिविधियों पर शक हुआ। पुलिस जैसे ही युवती के पास पहुंची, तो उसने नहर में कूदने का प्रयास किया। पुलिस ने उसे पकड़ा और अपने साथ थाने ले आई। यहां एसओ धर्मेंद्र सिंह राठौड़ ने पूछताछ की, तो उसने खुद को किठौर थाना क्षेत्र के ललियाना गांव की बताया। एसओ के अनुसार यह वही युवती है जिसने बीते दिनों पल्लवपुरम थाने से दरोगा नरेंद्र को यौन उत्पीड़न और रेप का आरोप लगाकर जेल भिजवाया था। युवती ने बताया कि दरोगा के जेल जाने के बाद उसकी पत्नी व उसका भाई लगातार उस पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहे हैं। आए दिन धमकाया जा रहा है। जिसके चलते वह डिप्रेशन में है। उसी डिप्रेशन के चलते बुधवार सुबह वह सरधना गंगनहर में डूबने पहुंची थी। एसओ ने उसे समझाया और फिर पुलिस अभिरक्षा में उसको उसके गांव भेज दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sardhana news