program in police office - आतंकवाद विरोध दिवस पर दिलाई गई शपथ DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आतंकवाद विरोध दिवस पर दिलाई गई शपथ

आतंकवाद विरोध दिवस पर दिलाई गई शपथ

जिलेभर में मंगलवार को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया गया। आतंकवाद का डटकर विरोध करने एवं सभी वर्गों में शांति कायम रखने की शपथ दिलाई गई।

एडीजी प्रशांत कुमार ने अपने कार्यालय पर अधिकारियों-कर्मचारियों को शपथ दिलाते हुए कहा कि आतंकवाद और हिंसा ने देश के सभी क्षेत्रों को तरह-तरह से कुप्रभावित किया है। इससे लोगों के मन में भय और अनिश्चितता की भावना पैदा हुई है। आतंकवाद राष्ट्रीय स्तर की सुरक्षा के लिए खतरा है। इससे हमें मिलजुलकर लड़ना होगा।

आईजी कार्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में रेंज आईजी रामकुमार वर्मा ने सभी अधिकारियों और पुलिसकर्मियों को शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ सबको साथ मिलकर चलना होगा। एसएसपी नितिन तिवारी ने शपथ ग्रहण के दौरान आतंकवाद के राष्ट्रीय हितों पर पड़ने वाले कुप्रभाव की चर्चा करते हुए आतंक के दायरे से दूर रहने का अनुरोध किया। इस दौरान एसपी क्राइम डॉ. बीपी अशोक, एसपी देहात अविनाश पांडेय, एलआईयू डीएसपी रतन नौलखा, सीओ चक्रपाणि त्रिपाठी आदि रहे। उधर, पीएसी छठी वाहिनी कार्यालय में डीआईजी दीपक कुमार ने सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को आतंकवाद विरोधी दिवस पर शपथ दिलाई।

21 मई क्यों?

21 मई 1991 को तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या कर दी गई थी। वह श्रीपेरंबदूर में एक रैली को संबोधित करने गए थे। उसी दौरान एक महिला उनके सामने आई। महिला का संबंध आतंकवादी संगठन एलटीटीई से था। उसके कपड़ों के नीचे विस्फोटक छिपा था। वह जैसे ही राजीव गांधी का पैर छूने के लिए झुकी तभी तेज धमाका हुआ। उस धमाके में राजीव गांधी समेत करीब 25 लोगों की मौत हो गई थी। उनकी हत्या के बाद से ही 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस के तौर पर मनाने का फैसला किया गया। इस दिन हर सरकारी कार्यालयों, सरकारी उपक्रमों और अन्य सरकारी संस्थानों में आतंकवाद विरोधी शपथ दिलाई जाती है।

दिवस मनाने का मकसद

-शांति और मानवता का संदेश फैलाना

-आतंकियों से सचेत रहने की जानकारी देना

-लोगों के बीच एकता को बढ़ावा देना

-युवाओं को शिक्षा देना, ताकि वे आतंकी गुटों में शामिल न हों

-आतंकवाद, हिंसा के खतरे और खतरनाक असर के बारे में जागरुकता पैदा करना

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:program in police office