DA Image
Monday, November 29, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मेरठविद्युत परिषद आशुलेखकों के सम्मेलन में उठीं समस्याएं, आंदोलन की तैयारी

विद्युत परिषद आशुलेखकों के सम्मेलन में उठीं समस्याएं, आंदोलन की तैयारी

हिन्दुस्तान टीम,मेरठNewswrap
Mon, 01 Nov 2021 03:00 AM
विद्युत परिषद आशुलेखकों के सम्मेलन में उठीं समस्याएं, आंदोलन की तैयारी

विद्युत परिषद लेखक संघ उत्तर प्रदेश का पश्चिमांचल का सम्मेलन मेरठ में हुआ। इसमें आशुलेखकों की विभिन्न समस्याएं उठाई गईं और समाधान की मांग की। कहा कि 1970 के रेग्यूलेशन लागू करते हुए नियुक्ति तिथि से आशुलेख का पदनाम तथा 1350-2160 का वेतनमान देते हुए आशुलेखक संवर्ग को कामन कैडर घोषित किया जाए। सम्मेलन में उत्कृष्ट कार्यों के लिए संगठन पदाधिकारियों, सदस्यों को सम्मानित किया गया। सम्मलेन के दूसरे सत्र में पश्चिमांचल डिस्कॉम की कार्यकारिणी का गठन किया गया।

विद्युत परिषद आशु लेखक संघ उत्तर प्रदेश के चतुर्थ सम्मेलन में पश्चिमांचल के पदाधिकारी शामिल हुए। उद्घाटन संघ के केंद्रीय अध्यक्ष वीके सिंह कलहंस ने किया। प्रथम सत्र का शुभारंभ संगठन मंत्री आरएन यादव और महामंत्री शिवाजी तिवारी ने किया। इस दौरान संस्था अध्यक्ष पीसी जोशी, मंत्री राममूरत वर्मा, मीडिया प्रभारी केहर सिंह रहे। उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि वीके सिंह कलहंस ने कहा कि पुनर्विचार याचिका खारिज होने के बाद भी अभी तक कारपोरेशन द्वारा 1970 का रेगुलेशन बहाल नहीं किया गया है। न ही सभी आशुलेखकों को उनकी नियुक्ति तिथि से आशु लेखक (खंड एवं मंडल संवर्ग) का पदनाम देते हुए उन्हें 1350-2160 के वेतनमान में वेतन निर्धारण देकर अपने कर्तव्य की इतिश्री कर ली गई है। इस कारण पुन: अवमानना की स्थिति उत्पन्न हो रही है। केंद्रीय महामंत्री शिवाजी तिवारी ने कहा कि अभियंता, अवर अभियंता और लेखा संवर्ग की भांति आशुलेखक संवर्ग को भी कॉमन कैडर घोषित करते हुए उनकी स्टेट लेवल सीनियरिटी तैयार करा एक-स्थान से दूसरे स्थान पर स्थानांतरण की सुविधा मुहैया कराई जाए। केंद्रीय उपाध्यक्ष जेसी कलसानी ने कहा कि यदि मांगों को पूरा नहीं किया तो आंदोलनात्मक कदम उठाने से पीछे नहीं हटेंगे। सम्मेलन में रामनाथ यादव, अरुण कुमार पांडेय, वीपी सिंह, महेश बाबू, लक्ष्मी, विवेक जोशी, जितेंद्र वर्मा, प्रशांत कुमार गुप्ता, राममूर्ति वर्मा, फातिमा खातून, एमकेए खान, श्रीकृष्ण गौतम, अमरपाल सिंह, बीबी वैश्य रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें