DA Image
7 अगस्त, 2020|5:45|IST

अगली स्टोरी

निजी लैब ने जिला अस्पताल में 62 कोरोना वायरस के सैंपल लिए

default image

जिला अस्पताल, महिला अस्पताल समेत शहर के कई निजी अस्पतालों में निजी लैब को कोरोना वायरस के सैंपल पहुंच रहे है। इन सैंपल की संख्या बढ़ने के चलते अब जिले में कोरोना वायरस के मरीजों की भी संख्या बढ़नी शुरु हो गई है। निजी लैब सैंपल लेने के बाद 48 घंटे में रिपोर्ट उपलब्ध करा रही है। निजी अस्पतालों में जांच के 45 सौ रुपये लिए जा रहे वहीं जिला अस्पताल में यह जांच निशुल्क की जा रही है।

शुक्रवार को जिला अस्पताल, महिला अस्पताल में 62 से ज्यादा सैंपल जांच के लिए गए है। वहीं शहर के निजी अस्पतालों से 19 से ज्यादा सैंपल कोरोना वायरस की जांच के लिए गए है। इन सभी सैंपल की रिपोर्ट 48 घंटे बाद आएगी। इसमें जो केस पॉजिटिव होने के उनको मेडिकल अस्पताल के कोरोना संक्रमित वार्ड में भर्ती कराया जाएगा। और जो निगेटिव होने उनका निजी, सरकारी में भर्ती कर इलाज किया जाएगा।

कैटागिरी के हिसाब से होंगे सैंपल

कोरोना जांच के लिए सरकार की गाइड लाइन बनाई गई है। उसकी हिसाब से कोरोना जांच के सैंपल लिए जा रहे है। जिन मरीजों को जरूरत है, सिर्फ उन्हीं की जांच की जा रही है। इसमें कैटागिरी तय की गई है। सबसे पहले उनका सैंपल लिया जाएगा जो संक्रमित स्थानों या सम्पर्क वाले मरीज हैं। इसके बाद कोरोना संक्रमित का इलाज कर रहे पैरामेडिकल स्टाफ, डाक्टर, परिवार को लिया जाएगा और तीसरे नंबर पर संदिग्ध, जिसमें कोई हिस्ट्री नहीं है फिर भी कोरोना के प्राथमिक लक्षण हैं।

---------

वर्जन

मरीजों की कोरोना जांच जिला अस्पताल, महिला अस्पताल में निशुल्क की जा रही है। इसमें कुछ सैंपल मेडिकल कॉलेज को भेजे जा रहे है। लैब में सैंपल की वेटिंग की वजह से देरी हो रही है। इसी वजह से पीपी मॉडल पर निजी लैब की व्यवस्था की गई है।

डॉ. पीके बंसल, एसआईसी जिला अस्पताल

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Private lab samples 62 corona virus at district hospital