DA Image
4 दिसंबर, 2020|4:40|IST

अगली स्टोरी

प्राइवेट अस्पताल में आने वाले रोगियों को चिकित्सक करेंगे जागरूक

प्राइवेट अस्पताल में आने वाले रोगियों को चिकित्सक करेंगे जागरूक

मवाना। संवाददाता

सर्दी में लगातार बढ़ रहे कोरोना के केसों को लेकर चिकित्सा विभाग ने अपनी रणनीति तैयार करनी शुरू कर दी है। रविवार को मवाना सीएचसी के चिकित्सा अधिक्षक डॉ. सतीश भास्कर ने सीएचसी पर प्राईवेट चिकित्सकों की बैठक लेकर सर्दी में आने वाले बुखार-खांसी के रोगियों को सीएचसी भेजकर कोरोना जांच कराने के बाद ही उपचार करने की बात कही। ऐसे में महामारी के चलते लापरवाही करने वाले चिकित्सक की रिपोर्ट अफसरों को भेजने की चेतावनी भी दी।

सर्दी में कोरोना के रोजाना केस बढ़ रहे हैं। अफसरों द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार रविवार को चिकित्सा अधिक्षक डॉ. सतीश भास्कर ने सीएचसी पर कस्बे के प्राईवेट चिकित्सकों को अस्पताल बुलाकर बैठक की। सभी चिकित्सकों को जानकारी देते हुए बताया कि सर्दी में अस्पताल आने वाले खांसी, जुकाम, बुखार के रोगियों का उपचार करने से पहले उनकी सीएचसी पर कोरोना जांच करानी अनिवार्य होगी। कोई भी चिकित्सक इस मामले में लापरवाही करता पाया जाता है तो उसकी रिपोर्ट तैयार कर अफसरों को भेजी जाएगी। वहीं, अस्पताल में सैनिटाइजर के साथ साफ-सफाई और मास्क की व्यवस्थाओं का भी विशेष ध्यान रखना होगा।

पुलिस ने चिकित्सक टीम के साथ चलाया मास्क चेकिंग अभियान

बढ़ रहे कोरोना के केस को देखते हुए कस्बे में बिना मास्क के घूमने वाले लोगों के लिए रविवार को डॉ. सतीश भास्कर से पुलिस टीम के साथ अभियान चलाया। पुलिस चौकी के पास बिना मास्क के लोगों के चालान काटे गए जिसमें सौ रुपये का डंड भी रखा गया। उधर, कई लोगों को चेतावनी के साथ मास्क देकर छोड़ा गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Physicians will be aware of patients coming to private hospital