DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  मेरठ  ›  अन्य मदों को टयूशन फीस में किया शामिल, घटाकर भी बढ़ रही फीस

मेरठअन्य मदों को टयूशन फीस में किया शामिल, घटाकर भी बढ़ रही फीस

हिन्दुस्तान टीम,मेरठPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 03:51 AM
अन्य मदों को टयूशन फीस में किया शामिल, घटाकर भी बढ़ रही फीस

मेरठ। वरिष्ठ संवाददाता

स्कूलों में फीस वृद्धि को लेकर तमाम शिकायतें आ रही हैं। फीस न बढ़ाने और अन्य मदों के शुल्क न लिए जाने का शासन का आदेश जारी हो चुका है, लेकिन पब्लिक स्कूलों ने अपना खेल शुरू कर दिया है। स्कूलों ने अन्य मदों के कुछ शुल्क को मासिक फीस में जोड़ते हुए लेना शुरू कर दिया है। इस तरह की तमाम शिकायत अभिभावकों को सोशल ग्रुप और लिखित में भी आ रही है।

शिकायत में कालियागढ़ी निवासी अभिभावक ललित ने बताया कि जागृति विहार में एक प्ले स्कूल में बेटा पढ़ता है। ऐसे में स्कूल ने फीस तो नहीं बढ़ाई, लेकिन अन्य मदों को उन फीस में शामिल करते हुए एक फीस बना दी है। जिसमें 300 रुपये अधिक देने पड़ रहे हैं। वहीं मोहनपुरी स्थित एक स्कूल में कक्षा सात में पढ़ने वाले दोनों बच्चों की फीस माह की 2400 रुपये थी। अभिभावक मीनाक्षी ने बताया कि फीस बढ़ाई नहीं गई और अन्य मदों के शुल्क भी हटा दिए गए, लेकिन 2400 रुपये फीस पिछले साल की है, जिसमें सभी मद शामिल हैं। ऐसे में यही फीस देनी पड़ रही हैं। फीस के मामलों में शासन के निर्देश हैं कि जिला शुल्क नियामक समिति के अंतर्गत स्कूलों की फीस शिकायत वाले मामले में तीन दिन के अंदर समस्या का समाधान किया जाए। फीस की जांच भी जिलाधिकारी की अध्यक्षता में होगी। वहीं अभी तक द अध्ययन, डीएमए स्कूल की फीस स्लिप में केवल टयूशन फीस ली जा रही है। स्कूल में अन्य मदों के शुल्क न लेने की सूचना भी अभिभावकों दी है, लेकिन शहर में अन्य पब्लिक स्कूलों में अन्य मद कम नही हुई हैं। वहां पिछले साल की पूरी फीस ही ली जा रही है।

संबंधित खबरें