online registration - दो हफ्ते और मिल सकता है रजिस्‍ट्रेशन का मौका DA Image
20 फरवरी, 2020|4:33|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो हफ्ते और मिल सकता है रजिस्‍ट्रेशन का मौका

मेरठ-सहारनपुर मंडल में चौ.चरण सिंह यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेजों में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए छात्र-छात्राओं को दो हफ्तों का मौका और मिल सकता है। कल अंतिम तिथि होने के बावजूद अभी तक रजिस्ट्रेशन का ग्राफ एक लाख भी नहीं पहुंचने पर विवि को तिथि बढ़ानी पड़ेगी। आठ जून को विवि कार्यपरिषद में नए कॉलेजों की मान्यता और आर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करने के आदेशों के एप्रूवल के बाद रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि बढ़ाने की घोषणा करेगा।

बुधवार देर रात तक विवि में 69 हजार 196 रजिस्ट्रेशन हुए हैं। इसमें से 60 हजार 643 ने ही अपनी फीस जमा कराते हुए आवेदन प्रक्रिया पूरी की है। विवि में यूजी में ट्रेडिशनल-प्रोफेशनल कोर्स में करीब दो लाख सीटों के हिसाब से रजिस्ट्रेशन बेहद कम हैं। सात जून को अंतिम तिथि तक विवि में रजिस्ट्रेशन एक लाख तक भी पहुंचने के आसार नहीं हैं। इस स्थिति में विवि के पास अंतिम तिथि बढ़ाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। सूत्रों के अनुसार विवि अधिकतम दो हफ्ते तक अंतिम तिथि बढ़ा सकता है।

एमए हिन्दी, इतिहास का रिजल्ट जारी

मेरठ। चौ.चरण सिंह यूनिवर्सिटी ने एमए एजुकेशन और हिन्दी प्रथम वर्ष प्राइवेट, बीए फाइनल इयर कॉलेज कोड 086, 416 प्राइवेट का रिजल्ट जारी कर दिया है। छात्र-छात्रा आज से यूनिवर्सिटी वेबसाइट www.ccsuniversity.ac.in पर अपना रिजल्ट देख सकते हैं।

आज होगा बीएड की परीक्षाओं पर फैसला

मेरठ। चौ.चरण सिंह यूनिवर्सिटी में बीएड प्रथम एवं द्वितीय वर्ष की परीक्षाओं पर आज फैसला होने की उम्मीद है। विवि बीएड के परीक्षा फॉर्म पहले ही भरवा चुका है। सूत्रों के मुताबिक विवि 15-20 जून के बीच परीक्षाएं शुरू कराने पर विचार कर रहा है। हालांकि तिथि पर अंतिम फैसला आज होने की उम्मीद है।

बीएससी फाइनल में सांख्यिकी में छात्रों के घट गए अंक

मेरठ। चौ.चरण सिंह यूनिवर्सिटी द्वारा जारी बीएससी फाइनल के रिजल्ट पर सवाल उठने लगे हैं। बुधवार को सार्वजनिक हुए रिजल्ट के बाद छात्रों ने मूल्यांकन में गडबड़ी के आरोप लगाए। छात्रों के अनुसार पेपर कोड बी-396 में विवि द्वारा जारी उत्तर कुंजी में ज्यादा अंक थे, लेकिन फाइनल उत्तर कुंजी में ये अंक आधे हो गए। छात्रों ने संशोधित उत्तर कुंजी में अनेक सही सवालों के गलत होने का दावा किया है। उक्त कोड में अधिकांश छात्रों के 16-20 नंबर आए हैं जबकि पूर्व में जारी उत्तर कुंजी में छात्रों के अंक 35-40 अंक थे। छात्रों ने विवि से इस पेपर कोड की उत्तर कुंजी दोबारा से चेक कराने की मांग की है। रिजल्ट में खामियों के विरोध में छात्र-छात्रा विवि पहुंचकर हंगामा कर सकते हैं।