DA Image
28 जनवरी, 2021|1:06|IST

अगली स्टोरी

नाइट कर्फ्यू न लग जाए, इसलिए दिन में कर ली पार्टी

नाइट कर्फ्यू न लग जाए, इसलिए दिन में कर ली पार्टी

मेरठ। वरिष्ठ संवाददाता

नए साल के जश्न पर पूरी तरह से कोरोना संक्रमण तथा शासन-प्रशासन की न्यू ईयर पार्टियों पर नियमों के साथ बंदिश लगाई गई थी। इसी बीच दिल्ली में नाइट कर्फ्यू लगा देने और शहर में भी प्रशासन के निर्णय की खबरें आने लगी तो लोग अलर्ट हो गए। कहीं रात में कर्फ्यू न लग जाए और नए साल की मस्ती से वंचित रह जाएं, इसलिए युवाओं ने होटल और रेस्टोरेंट में दिन में भी पार्टियां मना ली। हालांकि कॉलोनियों, गली-मोहल्लों और चौराहों पर आधी रात में भी धमाल हुआ, लेकिन पिछले साल के मुकाबले धमाल इस बार कुछ फीका था, लेकिन युवाओं में उत्साह खूब था। गुरुवार को दिन में चर्चाएं बनी रहीं कि प्रशासन रात में नाइट कर्फ्यू लगा देगा। ऐसे में अधिकांश युवाओं ने दिन में ही साथियों के साथ पार्टी कर ली। शाम तक युवाओं की पार्टियां होती रहीं।

कोरोना से बचाव और मस्ती-धमाल :

शाम से गली-मोहल्लों और कॉलोनियों में नए साल पर सामूहिक के बजाए व्यक्तिगत कार्यक्रम खूब हुए। लोगों ने कोरोना से बचाव के उपायों का अपनाया। सोशल डिस्टेसिंग का अधिक पालन नहीं हुआ, लेकिन फिल्मी गीतों पर बच्चों से लेकर युवा जमकर थिरके। इसी बीच बुजुर्गों का आशीर्वाद लिया और युवाओं ने एक-दूसरे को नए साल की बधाई दी।

उत्साह से लबरेज रहे बच्चे

कॉलोनियों में बच्चों ने जमकर धमाल के साथ नए साल का स्वागत किया। हनी गोल्फ ग्रीन कॉलोनी में निजी कार्यक्रम में बच्चों ने नृत्य और गीतों के जरिए समा बांध दिया। कार्यक्रम में सेनेटाइजर की व्यवस्था की गई थी। सभी ने मास्क लगाए हुए थे। कॉलोनी में मायरा, वैष्णवी, श्रेया, नंदिनी, अवनी, आरोही, अविका, शालविका, सूर्यांशी चौहान ने नए साल की बधाई दी। सोसायटी अध्यक्ष प्रवीण वशिष्ठ, सेक्रेटरी पंडित नवीन शर्मा, रविंद्र कुमार चौहान, ईशान, अर्पित ने बच्चों का उत्साहवर्धन किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Night curfew is not imposed so party took place during the day