DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आधे में मेरठ-सहारनपुर मंडल, आधे में बाकी देश

आधे में मेरठ-सहारनपुर मंडल, आधे में बाकी देश

सीबीएसई दसवीं के रिजल्ट में इस बार वेस्ट यूपी के मेधावियों ने अपनी प्रतिभा और मेहनत के दम पर अपने जिलों को चमका दिया। देहरादून क्षेत्र में उत्तर प्रदेश के 15 जिलों के मेधावियों ने तो इस बार कमाल कर दिया। इन जिलों में गौतमबुद्धनगर से सर्वाधिक 65 मेधावियों ने एंट्री पाते हुए पहले स्थान प्राप्त किया। गाजियाबाद और मेरठ मेधावियों की मेधा से क्रमश:दूसरे एवं तीसरे नंबर पर रहे हैं। नेशनल टॉप थ्री रैंक में भी सहारनपुर-मेरठ मंडल के हर जिले ने अपनी छाप छोड़ी है।

पहले बात नेशनल टॉप थ्री रैंक में शामिल 25 मेधावियों की। इसमें विभिन्न राज्यों एवं जिलों के छात्रों ने बाजी मारी है। आठ साल बाद अंकों से जारी हुए दसवीं के रिजल्ट में बड़ा बदलाव यह है कि मेरठ-सहारनपुर मंडल के मेधावियों ने शानदार ढंग से राष्ट्रीय स्तर पर दमदारी दिखाई है। टॉप-03 के इन 25 मेधावियों में बिजनौर, शामली, मुजफ्फरनगर और हापुड़ से एक-एक, गौतमबुद्ध नगर से पांच एवं गाजियाबाद के तीन मेधावियों सहित कुल 12 छात्र-छात्राओं ने अपनी जगह बनाई है। यानी नेशनल टॉप थ्री रैंक में कुल 25 मेधावियों में लगभग आधे बिजनौर सहित मेरठ-सहारनपुर मंडल से हैं जबकि 13 बाकी पूरे देश से।

देहरादून रीजन में यूपी के 15 जिलों में गौतमबुद्ध नगर के स्कूल और मेधावियों ने शानदार प्रदर्शन किया है। टॉप-09 रैंक में कुल 155 मेधावी सूची में हैं जिसमें सर्वाधिक 65 गौतमबुद्ध नगर से हैं। यानी 41 फीसदी मेरिट रैंक पर अकेले गौतमबुद्ध नगर के मेधावियों ने कब्जा जमाया है। गाजियाबाद से 36 और मेरठ से 15 मेधावी इस सूची में शामिल हैं। 12 मेधावियों के साथ मुरादाबाद चौथे पायदान पर है। अन्य जिलों के मेधावी भी इस सूची में हैं।

कहां से कितने मेधावी

-------------------------------

जनपद मेधावी

------------------------------

गौतमबुद्ध नगर 65

गाजियाबाद 36

मेरठ 15

मुरादाबाद 12

हापुड़ 06

सहारनपुर 05

बिजनौर 04

मुजफ्फरनगर 04

शामली 02

ज्योतिबाफुले नगर 02

बुलंदशहर 02

बदायूं 01

संभल 01

--------------------------

आंकड़े यूपी के 15 जिलों से

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Near about 50% from Meerut-sharnapur, left all oer Indai