ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मेरठमेरठ : दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने फांसी लगाकर जान दी

मेरठ : दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने फांसी लगाकर जान दी

पल्लवपुरम क्षेत्र में दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने आरोपी द्वारा केस वापस लेने की धमकी देने से आहत होकर शुक्रवार देर शाम फांसी लगाकर आत्माहत्या कर ली।...

मेरठ : दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने फांसी लगाकर जान दी
हिन्दुस्तान टीम,मेरठSat, 03 Feb 2024 02:15 AM
ऐप पर पढ़ें

मोदीपुरम। पल्लवपुरम क्षेत्र में दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने आरोपी द्वारा केस वापस लेने की धमकी देने से आहत होकर शुक्रवार देर शाम फांसी लगाकर आत्माहत्या कर ली। घटना के सूचना पर पल्लवपुरम पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

मुजफ्फरनगर के एक गांव निवासी महिला अपनी 17 वर्षीय बेटी और 13 वर्षीय बेटे के साथ पल्लवपुरम क्षेत्र की एक कॉलोनी में किराये पर एक महीने से रह रही थी। महिला मजदूरी करती है, जबकि बेटा चाय की दुकान पर काम करता है। शुक्रवार को महिला काम पर गई थी। करीब सात बजे जब वह घर पहुंची तो कमरे का दरवाजा बंद था। बेटा भी काम पर था। दरवाजा खोला तो कमरे की दीवार में चुनरी के फंदे में किशोरी का शव लटका हुआ था। परिजनों की चीख सुनकर पड़ोसी एकत्र हो गए और पुलिस को सूचना दी। पल्लवपुरम पुलिस व फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची और जांच की। मृतका की मां ने पुलिस को बताया कि गांव सोरम गोयला निवासी युवक ने किशोरी से दुष्कर्म किया था, इसका केस वहीं के थाने में दर्ज हुआ था। केस की तारीख पर किशोरी लगातार जा रही थी। एक फरवरी को भी किशोरी तारीख पर गई थी। आरोप है कि आरोपी ने केस वापस न लेने पर किशोरी समेत पूरे परिवार को अंजाम भुगतने की धमकी दी थी। इससे आहत होकर किशोरी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इंस्पेक्टर जयप्रकाश यादव का कहना है कि तहरीर मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें