DA Image
25 जनवरी, 2020|2:04|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कत्ल का बदला लेने के लिए की थी भदौड़ा के शूटर की हत्या

default image

कंकरखेड़ा पुलिस ने योगेश भदौड़ा के शूटर अक्षय मलिक की हत्या का खुलासा करते हुए तीन हत्यारोपियों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में खुलासा हुआ है कि कत्ल का बदला लेने और वसूली से परेशान होकर भदौड़ा के शूटर अक्षय की हत्या की गई। आरोपियों के पास से वारदात में इस्तेमाल बाइक और तमंचे बरामद किए गए हैं।

पुलिस लाइन में एसएसपी अजय साहनी और एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह ने प्रेसवार्ता में बताया कि 11 जनवरी को कंकरखेड़ा के पावली खुर्द गांव में लाश मिली थी। इसकी पहचान अक्षय मलिक निवासी भदौड़ा के रूप में हुई। पता चला कि अक्षय मलिक, योगेश भदौड़ा का शार्प शूटर था। नितिन गंजा हत्याकांड में भी वह आरोपी रहा। छानबीन करते हुए पुलिस, हत्यारोपियों तक पहुंच गई। तीन आरोपी निशांत, मगनवीर और गर्वित को गिरफ्तार किया गया है।

पूछताछ में सनसनीखेज खुलासा हुआ। पता चला कि निशांत, मगनवीर और गर्वित तीनों दोस्त हैं। निशांत के चाचा कुसुमवीर का 2016 में गांव के हैप्पी ने रंजिश में मर्डर कर दिया था। हैप्पी, निशांत को भी मारने की धमकी दे रहा था। करीब दो साल से हैप्पी का कोई सुराग नहीं है। हैप्पी का साथी नीरज चीता निवासी अट्टा चिंदौड़ी वर्तमान में चंडीगढ़ जेल में बंद है और वहीं से निशांत के पास उसने कॉल की। नीरज ने निशांत को बताया कि हैप्पी को मार दिया है और इस काम के लिए दो लाख रुपये चाहिए। रकम नहीं देने पर हत्या करने की धमकी दी। परेशान होकर निशांत ने मगनवीर और गर्वित से मदद मांगी। मगनवीर और अक्षय मलिक दोनों दोस्त थे तो अक्षय से मदद मांगी गई। अक्षय से मदद लेने के बाद नीरज की कॉल आनी बंद हो गई।

हालांकि इस काम के लिए अक्षय ने भी निशांत को बड़ी रकम के लिए परेशान करना शुरू कर दिया। अक्षय अब निशांत पर रकम देने का दबाव बना रहा था। एक रात निशांत ने अक्षय से बातचीत के दौरान ये बात रिकार्ड कर ली कि अक्षय ने गर्वित के चाचा पीयूष की हत्या की थी। यह बात निशांत ने गर्वित को बताई और रिकार्डिंग सुना दी। इसके बाद तीनों दोस्तों ने मिलकर अक्षय मलिक की हत्या की प्लानिंग बनाई। 10 जनवरी की रात बहाने से अक्षय को बाइक पर लेकर पावली गांव पहुंच गए। यहां पर शराब पिलाई और मौका पाकर अक्षय की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने मोबाइल कॉल डिटेल से आरोपियों की धरपकड़ की। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने तीन तमंचे, एक बाइक और मोबाइल फोन बरामद किया है।

----

ये आरोपी गिरफ्तार

1. निशांत उर्फ गोलू निवासी गांव गढ़ी दबथुवा, सरधना।

2. मगनवीर उर्फ लाला उर्फ धनीजाट निवासी गांव रतौली, सरधना।

3. गर्वित चौधरी उर्फ राजा उर्फ बिट्टू निवासी गांव दबथुवा, सरधना।