meerut news - मखदूमपुर गंगा मेला : हर हर गंगे के जयघोष से गूंज उठा घाट DA Image
12 नबम्बर, 2019|6:11|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मखदूमपुर गंगा मेला : हर हर गंगे के जयघोष से गूंज उठा घाट

मखदूमपुर गंगा मेला : हर हर गंगे के जयघोष से गूंज उठा घाट

1 / 2मखदूमपुर गंगा घाट पर श्रद्धालुओं की संख्या में काफी इजाफा हो गया है और घाट तंबुओं की नगरी में तब्दील होती जा रही है। मां गंगे की उद्घोष से क्षेत्र गुंजायमान हो रहा है। सोमवार शाम तक मेला पूरी तहर से...

मखदूमपुर गंगा मेला : हर हर गंगे के जयघोष से गूंज उठा घाट

2 / 2मखदूमपुर गंगा घाट पर श्रद्धालुओं की संख्या में काफी इजाफा हो गया है और घाट तंबुओं की नगरी में तब्दील होती जा रही है। मां गंगे की उद्घोष से क्षेत्र गुंजायमान हो रहा है। सोमवार शाम तक मेला पूरी तहर से...

PreviousNext

मखदूमपुर गंगा घाट पर श्रद्धालुओं की संख्या में काफी इजाफा हो गया है और घाट तंबुओं की नगरी में तब्दील होती जा रही है। मां गंगे की उद्घोष से क्षेत्र गुंजायमान हो रहा है। सोमवार शाम तक मेला पूरी तहर से सज जाएगा। मंगलवार को कार्तिक पूर्णिमा का पवित्र और मुख्य स्नान है। इसलिए श्रद्धालु सोमवार शाम तक मेला स्थल पर पहुंच जाएंगे।

कार्तिक पूर्णिमा के पवित्र स्नान के लिए मखदूमपुर गंगा घाट के किनारे तंबुओं की नगरी बस गई है। चारों ओर अद्भुद नजारा देखने को मिल रहा है। कोई श्रद्धालु गंगा में स्नान कर रहा है तो कोई अपने पशुओं को नहला रहा है। कोई पूजा अर्चना की तैयारी कर रहा है तो बच्चे गंगा की रेती में मस्ती कर रहे हैं। मेले में प्रतिदिन रौनक बढ़ती जा रही है। जैसे जैसे मुख्य स्नान समीप आ रहा है, श्रद्धालुओं की संख्या में इजाफा हो रहा है। मुख्य घाट के समीप तक तंबु लगे हुए हैं। हालांकि सुरक्षा की दृष्टि से मेले में अभी भी पूरा पुलिस फोर्स नहीं पहुंचा है।

लाखों श्रद्धालुओं की निगरानी को मात्र दो वाच टावर, वे भी खाली

सोमवार शाम तक मेला पूरी तहर से सज जाएगा और प्रशासन सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम के दावे कर रहा हैं। सुरक्षा व्यवस्था पर नजर रखने के लिए दो वाच टावर बनाए गए हैं, जो खाली हैं। गंगा में बनाए गए बेरिकेटिंग लगाई गई है, जो ध्वस्त हो गई है। जिससे श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

प्रतिबंध के बाद भी शराब का सेवन हो रहा

पुलिस प्रशासन गंगा मेले शराब के सेवन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध की बात कह रहा था और श्रद्धालुओं से भी अपेक्षा भी कर रहा था कि वे मेले में शराब का सेवन न करें। बावजूद इसके मेले में अंग्रेजी, देशी व कच्ची शराब का खूब सेवन किया जा रहा हे। एसडीएम मवाना अंकुर श्रीवास्तव ने गंगा के बीच टापू पर शराब पी रहे युवकों को धमकाकर गंगा के इस और भेजा।

डस्टबिन का टोटा

जिला पंचायत द्वारा मेले में डस्टबिन लगाने का दावा किया जा रहा था, लेकिन पूरे मेले में केवल मुख्य मार्ग पर ही डस्टबिन लगी है। इसके अलावा मेले या रिंग रोड पर कोई डस्टबिन नहीं दिखाई रही है। ऐसे में मेला स्थल पर गंदगी फैलना लाजमी है और जिला पंचायत द्वारा दिया गया स्वच्छता का संदेश बेमानी साबित हो रहा है।

एसडीएम ने हटवाए शिविर व दुकान

श्रद्वालुओं ने रिंग रोड की बैरिकेडिंग से आगे निकल कर गंगा के घाट पर तंबू लगा लिये है और घाट के समीप ही जहां गहरा पानी है तथा नदी तेजी से कटान कर रही है। एसडीएम मवाना अंकुर श्रीवास्तव ने सख्ती दिखाते हुए वहां से शिविर हटवाए क्योंकि रात के समय किसी भी समय गंगा तेजी से कटान कर सकती है तथा वहां गहरा पानी है। उन्होंने पीएसी की मोटर बोट से नदी में बैरिकेडिंग के उस पार निरीक्षण किया तथा उस पर बैठे लोगों को वहां से हटाया। इसके अलावा मुख्य घाट पर जाने वाले रास्ते पर लगी दुकानों को भी वहां से हटवाया।

नहीं लगी वन विभाग की चौकी, हो रहा खनन

मेले के दौरान रेत खनन माफियाओं की मौज रहती है और मुख्य मार्गों पर ट्रैक्टर ट्राली धंस जाने से आवागमन बाधित हो जाता है और कई घंटों तक श्रद्धालु जाम में फंसे रहते हैं। इस बार प्रशासन ने दावा किया था कि किसी भी हाल में रेत खनन नहीं होने दिया जाएगा और इसके लिए वन विभाग की चौकी भी स्थापित की जाएगी। परंतु प्रशासन के दावे खोखले साबित हुए और लोग जमकर खनन करने में जुटे है।

बजरंग दल के शिविर का शुभारंभ

विहिप बजरंग दल के शिविर का भी आज विधिवत रूप से उद्घाटन हो गया। शिविर का उद्घाटन क्षेत्रीय विधायक दिनेश खटीक, बलराज डूंगर, आदि ने संयुक्त रूप से भारत माता व भगवान श्रीराम के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्वलन कर किया। बलराज डूंगर ने अयोध्या पर आए फैसले का स्वागत किया। इस उपलक्ष्य मे हवन भी किया गया। इस अवसर पर सौरभ शर्मा, आशु त्यागी, मनीष कराहना आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:meerut news