DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बच्ची का अभी तक नहीं लगा सुराग, दबिशें जारी

default image

सौलाना की रहने वाली आठ साल की बच्ची जैनब का दूसरे दिन भी पुलिस सुराग नहीं लगा सकी। बच्ची सोमवार से लापता है और पुलिस ने ग्रामीणों के साथ मिलकर जंगल में बुधवार दोपहर को कांबिंग की। इस दौरान डॉग स्क्वायड को भी बुलाया गया। क्राइम ब्रांच भी गांव पहुंची और आरोपियों से बातचीत की। इतना ही नहीं, सीओ भी खुद पूरे अभियान के दौरान टीम के साथ रहे। इसके बावजूद बच्ची का कोई सुराग नहीं लगा।

सौलाना गांव निवासी रूकसाना सोमवार शाम को अपनी मौसेरी बहन जैनब(8) के साथ घर से निकली थी। इसके बाद से दोनों बहने लापता हो गई। परिजनों ने काफी खोजबीन की, लेकिन कुछ पता नहीं चला। इसके बाद परतापुर पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने सैदपुर गांव निवासी राशिद के घर से रूकसाना को बरामद कर लिया। इसके बाद रूकसाना ने बयान दिया कि जैनब को राशिद और उसके दो साथियों ने गला दबाकर मार दिया था। पुलिस ने राशिद के दोनों साथियों उस्मान व आलम को पकड़ लिया और पूछताछ की गई। इसके बाद पुलिस टीम ने सौलाना और सैदपुर के जंगलों में सर्च अभियान चलाया। इसके बावजूद मंगलवार को बच्ची का कुछ पता नहीं चला।

बुधवार को भी पुलिस और ग्रामीणों ने जंगल में करीब पांच घंटे सर्च किया। इस दौरान डॉग स्क्वायड को भी बुलाया गया। आरोपी युवकों राशिद व बाकी को साथ लेकर कुछ जगह चिन्हित भी की गई, लेकिन कुछ पता नहीं चल सका। दूसरी ओर अब रूकसाना ने बयान बदलने शुरू कर दिए हैं। पुलिस इस मामले में अब गुरुवार को दोबारा अभियान चलाएगी।

----

थाने पर डटे बच्ची के परिजन

बच्ची के लापता होने से परिजन बहुत परेशान है। 72 घंटे बीत जाने के बाद भी बच्ची का पता न लगने के कारण परिजनों ने खाना तक नहीं खाया है। बार-बार अपने बयान से पलट रही युवती के कारण परिजनों को आशंका है कि बच्ची के साथ कोई अनहोनी हो चुकी है।

----

बच्ची की बरामदगी के लिए अभियान चलाया जा रहा है। रूकसाना और बाकी तीनों युवकों से पूछताछ चल रही है। बच्ची कहां है और किस हाल में है, कुछ पता नहीं है। प्रयास किया जा रहा है कि बच्ची के बारे में जानकारी मिल जाए।

चक्रपाणी त्रिपाठी, सीओ ब्रह्मपुरी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:meerut news