meerut news - विशाखापत्तनम से आ रहा ढाई सौ किलो गांजा एसटीएफ ने पकड़ा DA Image
17 फरवरी, 2020|10:03|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विशाखापत्तनम से आ रहा ढाई सौ किलो गांजा एसटीएफ ने पकड़ा

विशाखापत्तनम से आ रहा ढाई सौ किलो गांजा एसटीएफ ने पकड़ा

एसटीएफ को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी। एसटीएफ ने सरूरपुर थाना क्षेत्र में करनाल हाइवे से मुखबिर ​की सूचना पर एक गाड़ी से 235 किलो गांजा बरामद किया। उड़ीसा से गांजा लेकर शामली लेकर जा रहे थे। जहां से वेस्ट यूपी के कई जिलों में गांजे की सप्लाई की जाती। एसटीएफ ने दो तस्करों को गिरफ्तार किया। पुलिस के अनुसार गांजे की कीमत करीब पचास लाख रुपए है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो दिल्ली की टीम को भी जानकारी भेज दी गई है।

शुक्रवार को मेरठ की एसटीएफ की टीम को मुखबिरों द्वारा सूचना मिली थी कि उड़ीसा से शनिवार को भारी मात्रा में गांजा मेरठ होते हुए शामली के आसपास के क्षेत्रों में बिकने के लिए जाएगा। सूचना पर तुरंत कार्रवाई करते हुए एसटीएफ की टीम शनिवार सुबह करनाल हाइवे पर चैकिंग अभियान चलाया। शक के आधार पर एक ट्रक को रोककर चेकिंग करनी शुरू कर दी। ट्रक से पुलिस ने 235 किलो गांजा बरामद किया और साथ ही अभियुक्तों को भी पकड़ लिया। एसटीएफ में डिप्टी एसपी बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि नदीम अंसारी पुत्र मोहम्मद उमर, आबिद पुत्र अब्बास अली निवासी संजय नगर कस्बा बनत, मुजफ्फरनगर को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ में सामने आया कि तस्कर गांजे को उडीसा से लाए थे और शामली ले जा रहे ​थे। उन्होंने यह भी बताया कि इस गांजे को शामली के आसपास के क्षेत्रों में बेचने के लिए ले जा रहे थे। 235 किलोग्राम गांजे के साथ पकड़ा गया। इसकी सप्लाई मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा्, बागपत, बिजनौर, बुलंदशहर, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और शामली में होनी थी।

दोनो तस्करों ने बताया कि कलीम निवासी कैराना शामली ने हम लोगों से कहा था कि उड़ीसा से कुछ माल आना है। कलीम ने कहा कि उड़ीसा को फोन कर दिया है तुम लोग चले जाओ। इस पर ट्रक लेकर बताए गए स्थान पर पहुंचे और वहां से 235 किलो गांजा लदवाया। कलीम ने मसे कहा था कि तुम लोग रास्ते में अपना फोन बंद कर देना। शामली आकर फोन खोलकर मुझे काल कर देना। कलीम द्वारा माल का पैसा खाते में डलवा दिया था। कलीम वहां से दस-बारह हजार रूपये हिसाब से माल खरीदता है और मेरठ में शामली और आसपास क्षेत्रों में 22 हजार रूपये किलो के हिसाब से बेचता है। हम कलीम के साथ काफी समय से तस्करी में लगे है। सभी आरोपियों के खिलाफ मुकदमा सरूरपुर थाने में दर्ज कर लिया गया है। आरोपियों के खिलाफ सरूरपुर पुलिस और नारकोटिक्स कंटोल ब्यूरो दिल्ली के द्वारा वैधानिक कार्रवाई की जा रही है। पुलिस ने 235 किलो गांजा करीब पचास लाख रूपये कीमत का बरामद किया है। आरोपियों के कब्जे से एक मोबाइल और ट्रक भी बरामद किया गया है।

जमानत पर बाहर आने के बाद फिर से शुरू कर दी तस्करी

एसटीएफ ने बताया कि आरोपी कलीम लंबे समय से तस्करी कर रहा है। इसके खिलाफ कई मुकदमे कायम है। पहले भी जेल जा चुका है। अभी कुछ दिन पहले जेल से जमानत पर छुटकर आने के बाद फिर से तस्करी करनी शुरू कर दी है। इसके खिलाफ भी दबिश दी जा रही है।