DA Image
1 अगस्त, 2020|1:45|IST

अगली स्टोरी

मेरठ: घरों में पढ़ी गई ईद उल अजहा की नमाज, ईदगाह पर तैनात रही फोर्स

मेरठ: घरों में पढ़ी गई ईद उल अजहा की नमाज, ईदगाह पर तैनात रही फोर्स

1 / 2ईद उल अजहा की नमाज बरोज शनिवार घरों में शिद्दत के साथ अदा की गई। हजरत इब्राहिम और हजरत इस्माइल के कुर्बानी के जज्बे को याद कर कुर्बानी दी गई। घर के बड़े बुजुर्गों ने नई नस्लों को कुर्बानी के मायने...

मेरठ: घरों में पढ़ी गई ईद उल अजहा की नमाज, ईदगाह पर तैनात रही फोर्स

2 / 2ईद उल अजहा की नमाज बरोज शनिवार घरों में शिद्दत के साथ अदा की गई। हजरत इब्राहिम और हजरत इस्माइल के कुर्बानी के जज्बे को याद कर कुर्बानी दी गई। घर के बड़े बुजुर्गों ने नई नस्लों को कुर्बानी के मायने...

PreviousNext

ईद उल अजहा की नमाज बरोज शनिवार घरों में शिद्दत के साथ अदा की गई। हजरत इब्राहिम और हजरत इस्माइल के कुर्बानी के जज्बे को याद कर कुर्बानी दी गई। घर के बड़े बुजुर्गों ने नई नस्लों को कुर्बानी के मायने बताए। वही हर साल मोमिनो के सफे से पट जाने वाली ईदगाह पर नमाज अदा नहीं की गई और पुलिस फोर्स तैनात रहा।

जिला प्रशासन की ओर से ईदगाह पर फोर्स तैनात की गई। पहले ही मस्जिदों में 5 लोगों के ही नमाज पढ़ने को कहा गया था। ऐसे में लोग घरों में ही रहे और यही नमाज अदा की। शहर के साथ ही देहात की भी तमाम मस्जिदों पर इमामो और मुतवल्लियों द्वारा सूचना चस्पा कर दी गई। इसमें कहा गया कि मस्जिद में 5 लोग पूरे हैं ऐसे में घर में ही नमाज अदा करें।

सड़कों पर उतरे अफसर, लेते रहे जायजा

डीएम अनिल ढींगरा व एसएसपी अजय साहनी अफसरों की फौज के साथ सुबह से सड़कों पर उतरे और हालातों का जायजा लेते रहे। बेगमपुल, हापुड़ अड्डा, रेलवे रोड चौराहा व ईदगाह आदि स्थानों पर अफसर पहुंचे। आजादी के बाद से शाही ईदगाह पर ऐसा पहली मर्तबा हुआ कि नमाज अदा नहीं की गई।

शाही ईदगाह में ईद उल फितर के मौके पर कारी शफीक उर रहमान कासमी और लिसाड़ी गेट ईदगाह में कारी अफ्फान ने कुछ लोगों के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के साथ नमाज अदा की थी। इस बार भी अनुमति मांगी जा रही थी लेकिन प्रशासन ने अनुमति नहीं दी। ऐसे में लोगों ने घरों पर ही नमाज अदा की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Meerut Eid ul Azha prayers offered in homes force deployed at Idgah