ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मेरठइंद्रप्रस्थ सोसाइटी में गड़बड़ी को लेकर 12 पर मुकदमा

इंद्रप्रस्थ सोसाइटी में गड़बड़ी को लेकर 12 पर मुकदमा

इंद्रप्रस्थ सोसाइटी में गड़बड़ी को लेकर 12 पर मुकदमा

इंद्रप्रस्थ सोसाइटी में गड़बड़ी को लेकर 12 पर मुकदमा
हिन्दुस्तान टीम,मेरठTue, 05 Dec 2023 01:50 AM
ऐप पर पढ़ें

अशोक नगर स्थित इंद्रप्रस्थ एस्टेट सहकारी सोसाइटी में गड़बड़ियों को लेकर सचिव नरेश कुमार की तहरीर पर तत्कालीन सहायक सचिव रामनरेश तोमर समेत 12 लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज हुआ है। इंद्रप्रस्थ सोसाइटी का मामला कई वर्षों से विवादों में रहा है। कई आरोपियों का कहना है कि वे सोसाइटी छोड़ चुके हैं।

शासन स्तर से इंद्रप्रस्थ एस्टेट सहकारी सोसाइटी के 2022 में हुए चुनाव को लेकर कार्रवाई के बाद सोसाइटी सचिव नरेश कुमार ने एसएसपी से शिकायत कर आरोपियों पर कानूनी कार्रवाई का अनुरोध किया था। शिकायत पर एसएसपी ने एसपी ट्रैफिक जितेन्द्र श्रीवास्तव को जांच की जिम्मेदारी दी थी। एसपी ट्रैफिक ने जांच रिपोर्ट में 2022 के चुनाव को गलत पाया। यह भी पाया कि सोसाइटी के सहायक सचिव रहते हुए रामनरेश तोमर के पिता भी प्रबंध कमेटी के सदस्य बन गए, जो उत्तर प्रदेश सहकारी समिति अधिनियम-1965 की धारा-124 का उल्लंघन है। इस कारण सोसाइटी पदाधिकारियों को पूर्व में ही अयोग्य घोषित कर दिया था।

एसपी ट्रैफिक ने जांच रिपोर्ट के आधार पर पाया कि 2022 का चुनाव फर्जी अभिलेखों और सदस्यता सूची के आधार पर कराया गया था। उन्होंने मुकदमे की सिफारिश की। इसके बाद सोसाइटी सचिव नरेश कुमार की तहरीर पर कंकरखेड़ा थाने में रामनरेश तोमर, सुभाषवीर, सर्वेश पुंडीर, रामपाल सिंह, रामचंद्र सिंह, मंजू रानी, कृष्णपाल, सुनील, नूर मोहम्मद, रमेश और सतीश तेवतिया, नरेन्द्र सिंह तोमर के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें