DA Image
Friday, December 3, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मेरठमेरठः बीएसएनएल ने आपदा के दौरान दूरसंचार सेवाओं की बहाली के लिए की मॉक ड्रिल

मेरठः बीएसएनएल ने आपदा के दौरान दूरसंचार सेवाओं की बहाली के लिए की मॉक ड्रिल

हिन्दुस्तान टीम,मेरठNewswrap
Wed, 27 Oct 2021 03:30 PM
मेरठः बीएसएनएल ने आपदा के दौरान दूरसंचार सेवाओं की बहाली के लिए की मॉक ड्रिल

दूरसंचार विभाग की मेरठ इकाई एवं बीएसएनएल द्वारा आपदा के दौरान दूरसंचार सेवाओं की बहाली के लिए तैयारियों का आकलन करने के लिए मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया। मॉक ड्रिल में आपदा के कारण मोबाइल टावर के बाधित होने की स्थिति में दूरसंचार सेवाओं की समय पर बहाली का परीक्षण किया गया।

आपदा में फंसे लोगों का पता लगाने और चेतावनी संदेश प्रसारित करके जीवन बचाने में दूरसंचार सेवाएं महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। आपदा के बाद दूरसंचार सेवाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता पर बहाल किया जाना अति आवश्यक है, क्योंकि दूरसंचार सेवाएं बचावराहत और पुनर्वास उपायों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है ।

राष्ट्रीय डिजिटल संचार नीति के अनुसार आपदा के दौरान मोबाइल नेटवर्क के बहाली के लिए त्वरित प्रतिक्रिया और पुनर्निर्माण के लिए व्यापक योजनाएं दूरसंचार विभाग ने आपदा के समय मोबाइल नेटवर्क में होने वाले नुकसान को कम करने और उसको बाहर करने हेतु त्वरित प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए मानक संचालन प्रक्रिया जारी की है।

यह मॉक ड्रिल इसी एसपीओ के तहत आयोजित की गई। इस मॉक ड्रिल में बीएसएनएल के एक मोबाइल टावर को आपदा या आपात स्थिति के कारण उत्पन्न परिस्थिति का अनुकरण करते हुए बाधित किया गया। आपदा के प्रभाव और क्षति को कम करने के लिए एसडीओ में परिकल्पित गतिविधियों को एक साथ शुरू किया गया। जिससे कि दूरसंचार सेवाओं को समय पर बहाल किया जा सके। मॉक ड्रिल के दौरान मोबाइल नेटवर्क की आपातकालीन प्रतिक्रिया एवं उसकी उपलब्धता की जांच की गई। आग लगने की स्थिति में मोबाइल टावर पर अग्निशमन उपकरणों का परीक्षण एवं पावर बैकअप व्यवस्था की भी जांच की गई। इसके अलावा अन्य दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के साथ रोमिंग व्यवस्था और 112 आपातकालीन सेवा की उपलब्धता की भी जांच की गई। दूरसंचार विभाग द्वारा जारी एसपीओ के तहत गठित बीएसएनएल के फील्ड मेंटेनेंस टीम, साइट टेक्नीशियन टीम, इंफ्रास्ट्रक्चर टीम और कस्टमर एक्सपीरियंस टीम शामिल हुई। मॉक ड्रिल का अभ्यास दूरसंचार विभाग की मेरठ इकाई के अधिकारियों सीनियर डीडीजी यूपी वेस्ट एलएसए संजीव अग्रवाल, डीडीजी टेक्निकल अनुपम वार्ष्णेय, निदेशक टेक्नोलॉजी अमित कुमार झा की निगरानी में किया गया।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें