DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एमडीए उपाध्यक्ष से मिले बेंक्वेट हॉल संचालक, रखा पक्ष

एमडीए उपाध्यक्ष से मिले बेंक्वेट हॉल संचालक, रखा पक्ष

मेरठ में चल रही प्राधिकरण की ओर से मंडपों के ऊपर कार्रवाई से क्षुब्ध मंडप स्वामी व संचालक सोमवार को संयुक्त व्यापार संघ के महामंत्री अरुण वशिष्ठ के नेतृत्व में एमडीए उपाध्यक्ष राजेश कुमार पांडे से मिले। अरुण वशिष्ठ ने कहा कि जो जनहित याचिकादायर की गई है उसमें कोर्ट ने ऑर्डर में जाम से मुक्ति दिलाने के लिए जरूरी कदम उठाने के लिए कहा है साथ ही कूड़े के निस्तारण के लिए भी अपनी चिंता जाहिर की है। इस पर उपाध्यक्ष ने किसी तरह की टिप्पणी से इंकार कर दिया।

उन्होंने कहा कि कोर्ट के अंदर अति उत्साह में प्राधिकरण द्वारा ही मंडपों की सूची देना एक खेद का विषय था। उच्च न्यायालय ने शहर के विवाह स्थलों की सूची मेरठ विकास प्राधिकरण, आवास विकास, मेरठ कैंटोनमेंट बोर्ड व नगर निगम से मांगी थी जबकि आनन-फानन में सबसे पहले मेरठ विकास प्राधिकरण ने वह सूची न्यायालय को उपलब्ध कराई। सड़क पर लगने वाले जाम की व्यवस्था पुलिस अधीक्षक यातायात का कार्यक्षेत्र है। ऐसे में पहले यातायात अधीक्षक से सूचना ले कि मेरठ में जाम लगता भी है या नहीं।

अरुण वशिष्ठ ने कहा कि मंडप 1500 वर्ग मीटर में पास किया जा रहा है, जबकि अलग-अलग तरह की कैटेगरी बनाए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि जाम का कारण पार्किंग नहीं बल्कि अव्यवस्थित बारात का चलना और सड़क के बीच में आतिशबाजी किया जाना है। वशिष्ठ ने बताया कि एमडीए वीसी ने आश्वासन दिया कि वह एक कमेटी डीएम, एसएसपी, नगर आयुक्त, आवास विकास के अधिकारी व कैंट बोर्ड के अधिकारियों के साथ मिलकर बनाएंगे।

नोटिस के नाम पर सेटिंग के आरोप

मेरठ मंडप एसोसिएशन के महामंत्री विपुल सिंघल ने आरोप लगाया कि नोटिस के नाम पर उत्पीड़न किया जा रहा है। कर्मचारी मंडप स्वामियों से मनमाने ड्राफ्ट ले रहे हैं। इसे नक्शा स्वीकृत करने की फीस बताया जा रहा है। इस पर एमडीए उपाध्यक्ष ने सुबूत की बात कही। साथ ही आश्वस्त किया कि किसी तरह का भ्रष्टाचार स्वीकार नहीं किया जाएगा, ऐसे कर्मियों की डिटेल दें, जिनके खिलाफ कार्रवाई होगी। उपाध्यक्ष ने नैनीताल की तर्ज पर मंडप पुरम के लिए भी महायोजना 2031 में प्रावधान पर बात करने का आश्वासन दिया।

कोषाध्यक्ष नवीन अग्रवाल, चेयरमैन सुबोध गुप्ता, नरेश कंसल, संगठन मंत्री अनुज मित्तल, विनीत कुमार, सतीश मंगा, देवीदास मंगा, सुदीप अग्रवाल, नितिन गुप्ता, नमन अग्रवाल, अपार मेहरा, समर अल्वी, विपिन अग्रवाल, अक्षय मित्तल, विकास मित्तल, संजीव गोयल, सलीम अख्तर, यशपाल सिंह, रानू सत्संगी, अनुराग सक्सैना, केपी सिंह आदि मौजूद रहे।

::::::::::::::::::::::::::

दूसरे गुट ने बैठक कर दी आंदोलन की चेतावनी

मंडप एसोसिएशन मेरठ की आपात बैठक मारवाड़ी भोज मेरठ में संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता अरविंद गुप्ता मारवाड़ी ने की तथा संचालन महामंत्री देवेंद्र गोयल ने किया। बैठक मे संयुक्त व्यापार संघ के अध्यक्ष नवीन गुप्ता के द्वारा दोनों मंडप एसोसिएशन को एक करने के प्रयासों को बताया। एसोसिएशन के अध्यक्ष अरविंद गुप्ता ने बताया कि नवीन गुप्ता की अगुवाई में अफसरों से मिलने पर सहमति बनी थी, लेकिन गुप्ता के चोटिल होने के कारण दो दिन के लिए कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया।

उन्होंने कुछ लोगों पर अति उत्साह में मंडप स्वामियों की समस्याएं बढ़ाने का भी आरोप लगाया। ऐलान किया कि किसी भी सूरत में मंडप स्वामियों का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसा हुआ तो आंदोलन को सड़कों पर उतरेंगे। बैठक में राकेश बाठला, नीरज मित्तल, विपिन चौधरी, राकेश गुप्ता, नितिन सिंघल, नरेश शर्मा, विशाल यादव, शुभम सिंगल, प्रदीप गुप्ता, मिट्ठन लाल शर्मा, बलराम चौधरी, बाबूलाल गुप्ता, सुशील गुप्ता, संदीप कौशिक आदि उपस्थित रहे।

::::::::::::::::::::::

अवमानना याचिका करेंगे दाखिल

याचिका कर्ता सचिन सैनी की ओर से सोमवार को कमिश्नर, डीएम व एमडीए उपाध्यक्ष को पत्र दिया। इसमें आरोप लगाया कि प्राधिकरण अफसर हाइकोर्ट के आदेश को मनमाने ढंग से बता रहे हैं, जबकि अवैध मंडपों के खिलाफ कार्रवाई के स्पष्ट आदेश हैं। उन्होंने कहा कि अमल नहीं हुआ तो अफसरों के खिलाफ हाइकोर्ट में अवमानना याचिका दायर की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:mandap swami met with MDA VC